Covid-19 Update

2,27,093
मामले (हिमाचल)
2,22,422
मरीज ठीक हुए
3,830
मौत
34,580,832
मामले (भारत)
262,061,063
मामले (दुनिया)

सीएम जयराम के ड्रीम प्रोजेक्ट बल्ह हवाई अड्डे के विरोध में मंडी में धरना प्रदर्शन

डीसी के माध्यम से सीएम और पीएम को भेजा ज्ञापनए गैर उपजाऊ जमीन पर हवाई अड्डा बनाने की उठाई मांग

सीएम जयराम के ड्रीम प्रोजेक्ट बल्ह हवाई अड्डे के विरोध में मंडी में धरना प्रदर्शन

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर (Cm Jairam Thakur) के ड्रीम प्रोजेक्ट बल्ह में प्रस्तावित हवाई अड्डे (Balh Airport) का विरोध लगातार जारी है। शुक्रवार को भी बल्ह बचाओ संघर्ष समिति व किसान संगठनों ने संयुक्त रूप से मंडी जिला मुख्यालय के सेरी चांदनी पर प्रस्तावित हवाई अड्डे के विरोध में धरना प्रदर्शन (Protest) किया। उपरांत इसके एयरपोर्ट के विरोध में संघर्ष समिति ने डीसी मंडी (DC Mandi) अरिंदम चौधरी के माध्यम से पीएम नरेंद्र मोदी व सीएम जयराम ठाकुर को एक ज्ञापन भी भेजा। समिति ने मांग उठाई है कि प्रदेश के सीएम का ड्रीम प्रोजेक्ट बल्ह की उपजाउ जमीन के बदले किसी अन्य स्थान पर बनाया जाए।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: सरकारी जमीन पर अवैध रेहड़ियों की बढ़ी संख्या, फूड जोन गाड़ियों के लगे जमावड़े

इस मौके पर बल्ह बचाओ किसान संघर्ष समिति (Balh Bachao Kisan Sangharsh Samiti) के अध्यक्ष जोगिन्दर वालिया ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर पिछले 4 वर्षों से किसानों से बात तक नहीं कर रहे है और किसान सीएम से पूछना चाहते हैं कि बल्ह की उपजाऊ भूमि में ही हवाई अड्डे का निर्माण क्यों किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बल्ह में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाए जाने से यहां के लगभग 2500 परिवार प्रभावित हो रहे हैं जिनकी आबादी 12000 से अधिक है। उन्होंने कहा कि हवाई अड्डे की वजह से किसान भूमिहीन व विस्थापित हो जाएंगे और बल्ह क्षेत्र का नामोनिशान ही मिट जाएगा।

इस मौके पर बल्ह बचाओ संघर्ष समिति के सचिव नंदलाल वर्मा ने कहा कि बल्ह जमीन बहुत ही उपजाऊ है और एक वर्ष में लगभग 400 करोड़ रुपए आमदनी टमाटर की खेती से होती है। उन्होंने कहा कि एक ओर स्वयं सीएम जयराम मान रहे हैं कि बल्ह कि जमीन बहुत उपजाऊ है और इसे मिनी पंजाब कहा जाता है, वहीं, दूसरी तरफ हैरानी इस बात कि है कि सीएम बल्ह के किसानों को विश्वास में ना लेकर एकतरफा चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि बल्ह के किसान अपनी उपजाऊ जमीन किसी भी हालात में नहीं देना चाहते और सीएम अपनी जिद पर अड़े हुए हैं। उन्होंने चेतावनी दी है कि प्रस्तावित एयरपोर्ट को गैर उपजाऊ जमीन पर बनाया जाए, नहीं तो सीएम जयराम ठाकुर को आने वाले दिनों में इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है