×

जयराम ठाकुर ने फोन पर जाना पूर्व मंत्री और अनुराग ठाकुर के ससुर का कुशलक्षेम

जोगिंद्रनगर अस्पताल में भर्ती हैं पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर

जयराम ठाकुर ने फोन पर जाना पूर्व मंत्री और अनुराग ठाकुर के ससुर का कुशलक्षेम

- Advertisement -

मंडी। पूर्व मंत्री और बीजेपी के दिग्गज नेता गुलाब सिंह ठाकुर (Gulab Singh Thakur) की सेहत खराब चल रही है। इसी कारण गुलाब सिंह ठाकुर को जोगिंद्रनगर अस्पताल (Joginder Nagar Hospital) में भर्ती करना पड़ा था। हालांकि अब गुलाब सिंह ठाकुर के स्वास्थ्य (Gulab Singh Thakur Health) में काफी सुधार हुआ है और उन्हें जल्द ही अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है। उधर, सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने भी फोन कर पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर का कुशलक्षेम जाना है। आपको बता दें कि गुलाब सिंह ठाकुर को दो दिन पहले जोगिंद्रनगर अस्पताल में दाखिल किया गया था।


यह भी पढ़ें: Budget Session:सीएम बोले- विपक्षी विधायकों का निलंबन सही, राज्यपाल का गरिमा सर्वोप

अस्पताल के स्पेशल वार्ड में गुलाब सिंह ठाकुर (Gulab Singh Thakur) का उपचार चल रहा है। दरअसल पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर की शूगर काफी बढ़ गई थी। सोमवार को जब वो रूटीन चेकअप के लिए जोगिंद्रनगर अस्पताल पहुंचे तो उन्हें चेकअप के बाद अस्पताल में दाखिल करवाना पड़ा। गुलाब सिंह ठाकुर का बीपी भी काफी बढ़ा हुआ था। पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर (Gulab Singh Thakur) के बेटे सोमेंद्र ठाकुर के मुताबिक पिता की तबीयत काफी ज्यादा सुधार है और जल्द ही उन्हें अस्पताल से डिसचार्ज भी किया जा सकता है।

इससे पहले हिमाचल के पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल (Former CM Prem Kumar Dhumal) और केंद्रीय वित राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने भी फोन कर गुलाब सिंह ठाकुर का कुशलक्षेम जाना था। आपको बता दें कि प्रेम कुमार धूमल और गुलाब सिंह ठाकुर समधी हैं। अनुराग ठाकुर पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर के दामाद हैं। आज सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने भी फोन कर गुलाब सिंह ठाकुर का कुशलक्षेम जाना। जोगिंद्रनगर अस्पताल (Joginder Nagar Hospital) के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी रोशन लाल कौंडल ने बताया कि सोमवार दोपहर बाद पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर रूटीन चैकअप के अस्पताल आए थे। रोशन लाल कौंडल ने बताया कि गुलाब सिंह ठाकुर की शूगर काफी बढ़ गई थी। उन्हें प्राथमिक उपचार दिलाकर अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है