Covid-19 Update

2,26,859
मामले (हिमाचल)
2,22,190
मरीज ठीक हुए
3,825
मौत
34,563,749
मामले (भारत)
261,058,217
मामले (दुनिया)

Sukhu बोले, कोरोना के दौरान MGNREGA मजदूरों को बिना काम के मिले दिहाड़ी

आरटी-पीसीआर व रैपिड एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट एक दिन में आए

Sukhu बोले, कोरोना के दौरान MGNREGA मजदूरों को बिना काम के मिले दिहाड़ी

- Advertisement -

शिमला। कांग्रेस विधायक व पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू (Congress MLA Sukhwinder Singh Sukhu) ने कोविड महामारी से उपजे संकट के बीच मनरेगा मजदूरों (MGNREGA Workers) को बिना काम के दिहाड़ी देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि दिहाड़ी पर लगे मजदूर काफी संख्या में एक जगह एकत्रित हो रहे हैं, उनमें से अगर कोई संक्रमित हो तो अन्य लोग भी चपेट में आ सकते हैं। इसलिए प्रदेश सरकार से अनुरोध है कि मनरेगा के तहत काम के लिए जिन मजदूरों के नाम का मस्ट्रोल निकल चुका है, उन्हें दिहाड़ी दे दी जाए और सरकार काम को हालात सामान्य होने पर पूरा करा ले। इससे मजदूर संक्रमण से भी बचे रहेंगे व उनके परिवार का गुजारा भी चल जाएगा।

यह भी पढ़ें :Kangra जिला में दुकानें खोलने और बंद करने का समय निर्धारित-जानिए… 

सुक्खू ने कहा कि आरटी-पीसीआर (Report of RT-PCR) व रैपिड एंटीजन टेस्ट की रिपोर्ट सरकार एक दिन में सुनिश्चित करे। अब चार से पांच दिन में टेस्ट रिपोर्ट आ रही है। अगर कोई संक्रमित है और रिपोर्ट आने में इतने दिन लग जाते हैं तो वह औरों को भी कोरोना पॉजिटिव कर सकता है इसलिए टेस्ट रिपोर्ट तुरंत आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार एक साल के लिए प्रशिक्षित पैरा मेडिकल कर्मचारियों की भर्ती कोरोना स्टाफ के नाम पर करे। इससे कोविड अस्पतालों में स्टाफ का संकट खत्म हो जाएगा। इन कर्मचारियों को भविष्य में निकलने वाली सरकारी भर्तियों में भी अधिमान मिले। चूंकि, संकट के समय में इनके द्वारा दी गई सेवाओं को भुलाया नहीं जा सकता।

यह भी पढ़ें :Shimla बस अड्डे पर घर जाने को उमड़ी लोगों की भीड़, चलानी पड़ी अतिरिक्त बसें

सुक्खू ने सरकार से पूछा है कि कितने वेंटिलेटर स्टोर में पड़े जंग खा रहे हैं। इन्हें चलाने के लिए ऑपरेटर की भर्ती क्यों नहीं की जा रही। सरकार ये आंकड़े भी पेश करे कि कोविड महामारी आने के बाद कितने वेंटिलेटर ऑपरेटर भर्ती किये गए। सुक्खू ने कहा कि प्रदेश में वेंटिलेटर तो हैं, लेकिन उन्हें चलाने के लिए ऑपरेटर ही नहीं हैं। सुखविंद्र सुक्खू ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि कोविड कर्फ्यू का पूरी तरह पालन करें। खुद को 30 मई तक घर में सीमित कर लें, इससे कोरोना की चेन टूट जाएगी। संक्रमण का शिकार होने से बेहतर है कि सेल्फ लॉकडाउन (Self Lockdown) लगा लिया जाए। मास्क सही से पहनें, घर से बिना काम बाहर ना निकलें। सैनिटाइजेशन करें व दो गज की दूरी बनाए रखें। कोविड की दूसरी लहर पहली से अधिक खतरनाक है, इससे सावधानी बरत कर बच सकते हैं। घबराएं नहीं, मजबूती से इस महामारी का मुकाबला करें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है