Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

भारत में तेजी से बढ़ रहा कोरोना का रिकवरी रेट: USISPF Summit में बोले PM मोदी

बोले- जब 2020 शुरू हुआ था, तब क्या किसी ने कल्पना की थी कि यह कैसा होने जा रहा है?

भारत में तेजी से बढ़ रहा कोरोना का रिकवरी रेट: USISPF Summit में बोले PM मोदी

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने आज गुरुवार को भारत और अमेरिका के बीच साझेदारी के लिए कार्य करने वाले गैर लाभकारी संगठन अमेरिका-भारत सामरिक साझेदारी फोरम (USISPF) के तीसरे वार्षिक नेतृत्व शिखर सम्मेलन को संबोधित किया। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत में कोरोना का रिकवरी रेट काफी तेजी से बढ़ रहा है। भारत की जनसंख्या एक अरब 30 करोड़ से अधिक है, लेकिन इसके बावजूद प्रति दस लाख पर कोरोना से होने वाली मृत्युदर अन्य देशों के मुकाबले कहीं कम है। उन्होंने कहा कि जब 2020 शुरू हुआ था, तब क्या किसी ने कल्पना की थी कि यह कैसा होने जा रहा है? एक वैश्विक महामारी ने सभी को प्रभावित किया है। यह हमारे लचीलापन, सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली और आर्थिक प्रणाली का परीक्षण कर रहा है।

‘आत्मनिर्भर भारत’ लोकल और ग्लोबल के साथ मर्ज करता है

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान आगे कहा कि कोविड-19 महामारी से अनेक चीजें प्रभावित हुई होंगी, लेकिन 130 करोड़ भारतीयों की आकांक्षाएं नहीं प्रभावित हुईं। भारत ने रिकॉर्ड समय में अपनी कोविड-19 संबंधी सुविधाओं का विस्तार किया है और मौजूदा परिस्थिति में नई सोच की जरूरत है जो मानव-केंद्रित हो। पीएम मोदी ने आगे कहा कि कोरोना महामारी ने कई चीजों को प्रभावित किया है, लेकिन भारत के लोगों की आकांक्षाओं को यह प्रभावित नहीं कर सका है। हालिया महीनों में काफी सारे सुधार हुए हैं।

यह भी पढ़ें: Video: रूसी अधिकारी ने मिलाने के लिए आगे बढ़ाया हाथ, राजनाथ सिंह ने किया नमस्ते

पीएम ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि विश्व के सबसे बड़ें हाउसिंग प्रोग्राम पर काम जारी है। रेल, सड़क और एयर कनेक्टिविटी को बढ़ाया जा रहा है। इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काफी काम हो रहा है। हम बेहतरीन वित्तीय तकनीक का इस्तेमाल लोगों तक बैंकिंग, क्रेडिट, डिजिटल पेमेंट और इंश्योरेंस की सुविधा पहुंचाने के लिए कर रहे हैं। हमारा टैक्स सिस्टम पारदर्शी है। उन्होंने कहा कि हमारा टैक्स सिस्टम पारदर्शी है। हमारा सिस्टम ईमानदार टैक्सपेयर्स को आगे बढ़ाचा है। हमारा जीएसटी एकीकृत है। 1।3 अरब भारतीय ‘आत्मनिर्भर भारत‘ के मिशन में जुटे हैं। ‘आत्मनिर्भर भारत’ लोकल और ग्लोबल के साथ मर्ज करता है। आत्मनिर्भर भारत का उद्देश्य भारत को ग्लोबल मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में विकसित करना है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है