Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

Internet पर बिक रहा एक लाख से अधिक भारतीयों का Data, कहीं आप भी उनमें से तो नहीं

Internet पर बिक रहा एक लाख से अधिक भारतीयों का Data, कहीं आप भी उनमें से तो नहीं

- Advertisement -

नई दिल्ली। एक लाख से अधिक भारतीयों का डाटा लीक हो गया है। साइबर सिक्योरिटी फर्म साइबल (Cyble) के अनुसार इन लोगों के आधार (Aadhaar), पैन (PAN Card) और पासपोर्ट (Passport) के साथ दूसरे राष्ट्रीय पहचान पत्रों की स्कैन कॉपी ‘डार्क नेट’ (Dark Net) पर सेल की उपलब्ध कराई गई है। साइबल की रिपोर्ट में कहा गया है कि यह डाटा लीक एक थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म से हुआ है ना कि सरकारी डाटाबेस से। आमतौर पर तस्करी, आंतकवाद और दूसरे अवैध कामों के लिए इस नेट का इस्तेमाल किया जाता है। कई बार संवेदनशील जानकारियां साझा करने के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है।

यह भी पढ़ें: Himachal में स्कूल खोलें या नहीं, शिक्षा निदेशक आज जानेंगे अभिभावकों और प्रिंसिपलों की राय


जानिए क्या है डार्क वेब

डार्क वेब पर मौजूद जानकारी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह डाटा किसी केवाईसी (No your customer) कंपनी के जरिए लीक हुई है, क्योंकि जो डेटा डार्क वेब पर मौजूद है उनमें आधार कार्ड, पैन कार्ड और पासपोर्ट की स्कैन कॉपी शामिल है। बता दें कि डार्क नेट इंटरनेट का वह हिस्सा होता है जो सामान्य सर्च इंजन की पहुंच से दूर होता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए विशेष सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है। भारत के अलग-अलग हिस्सों के एक लाख से अधिक लोगों के पहचान दस्तावेजों तक कथित पहुंच का दावा किया है। साइबल के शोधार्थियों ने उस उपयोक्ता से करीब एक लाख पहचान दस्तावेज हासिल कर उनके भारतीय होने की पुष्टि की है। यह सभी दस्तावेज स्कैन कॉपी के रूप में हैं। इनके किसी कंपनी के ‘अपने ग्राहक को जानो’ डाटाबेस से चोरी होने की संभावना है। हालांकि कंपनी इस मामले की जांच कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है