Covid-19 Update

2,65,734
मामले (हिमाचल)
2, 51, 423
मरीज ठीक हुए
3951*
मौत
40,371,500
मामले (भारत)
363,221,567
मामले (दुनिया)

हेलिकॉप्टर हादसे पर रक्षामंत्री सदन में देंगे बयान, एम17 का डाटा रिकॉर्डर बरामद

हेलिकॉप्टर हादसे पर रक्षामंत्री सदन में देंगे बयान, एम17 का डाटा रिकॉर्डर बरामद

- Advertisement -

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तमिलनाडु में हेलिकॉप्टर दुर्घटना (Helicopter crash) के बारे में आज संसद में जानकारी देंगे। रक्षा मंत्री सुबह 11:15 बजे लोकसभा और बाद में राज्यसभा को ब्रीफ करेंगे। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत वेलिंगटन के डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज में व्याख्यान देने जा रहे थे, तभी तमिलनाडु में कुन्नूर के पास यह हादसा हो गया। सीडीएस रावत, उनकी पत्नी और अन्य रक्षा कर्मियों सहित 14 लोगों के साथ हेलिकॉप्टर लैंडिंग से कुछ मिनट पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

ये भी पढ़ेः राज्यपाल आर्लेकर और सीएम जयराम ने CDS रावत के निधन पर शोक व्यक्त किया

उधर भारतीय वायु सेना के एम 17 हेलीकॉप्टर का डेटा रिकॉर्डर गुरुवार सुबह बरामद कर लिया गया, जो ऊटी में कुन्नूर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विंग कमांडर आर. भारद्वाज के नेतृत्व में वायु सेना के अधिकारियों की 25 विशेष टीम ने ब्लैक बॉक्स बरामद कर लिया है और ज्यादा जानकारी का इंतजार है। टीम सुबह से ही तलाशी अभियान चला रही है।इस बीच कोयंबटूर से छह सदस्यीय विशेष चिकित्सा दल कुन्नूर हेलीकॉप्टर दुर्घटना में जीवित बचे एकमात्र कप्तान वरुण सिंह का इलाज कर रहे है, जो वेलिंगटन सेना अस्पताल में अपने जीवन के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल के इस स्कूल से रहा है CDS बिपिन रावत का गहरा नाता

तमिलनाडु के सीएम एम.के. स्टालिन ने सेना की टीम को पहले ही बता दिया है कि तमिलनाडु सरकार ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के इलाज में मदद करेगी।वेलिंगटन के सूत्रों ने कहा कि ग्रुप कप्तान वरुण सिंह शौर्य चक्र से सम्मानित हैं, जो हेलीकॉप्टर दुर्घटना के दौरान 60 प्रतिशत जल गए। दुर्घटनास्थल पर पहुंचने वाले पहले व्यक्ति रविकुमार ने आईएएनएस को बताया था कि दो लोगों को छोड़कर बाकी सभी जवानों के शव जल गए हैं।ब्लैक बॉक्स हेलीकॉप्टर की अंतिम उड़ान स्थिति और अन्य पहलुओं के बारे में डेटा प्रकट कर सकता है।हालांकि ब्लैक बॉक्स उड़ान डेटा रिकॉर्डर को चमकीले नारंगी रंग में चित्रित किया जाता है और यह उड़ान डेटा और कॉकपिट वातार्लापों को रिकॉर्ड करता है।हेलिकॉप्टर के अवशेषों की आगे की फोरेंसिक जांच से यह भी पता चल सकता है कि क्या दुर्घटना के बाहरी कारण थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है