Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,853,870
मामले (भारत)
178,745,302
मामले (दुनिया)
×

काशी विश्वनाथ में स्‍पर्श दर्शन के लिए जरूरी होगा ये Dress code, जींस-पैंट वालों को अनुमति नहीं

काशी विश्वनाथ में स्‍पर्श दर्शन के लिए जरूरी होगा ये Dress code, जींस-पैंट वालों को अनुमति नहीं

- Advertisement -

वाराणसी। दक्षिण भारतीय मंदिरों में प्रवेश के लिए अक्सर नियमों का पालन करना होता है और उसमें सबसे अहम होता है ड्रेस कोड। उज्जैन के महाकाल मंदिर और अन्य की तर्ज पर अब वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath temple) में भी ड्रेस कोड लागू किया जा रहा है। अब जो भक्त भगवान को छूकर उनकी पूजा और दर्शन करना चाहते हैं उन्हें विशेष प्रकार की ड्रेस ही पहननी होगी। यह ड्रेस कोड (Dress code) महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए लागू कर दिया गया है। पुरुषों को धोती-कुर्ता और महिलाओं को साड़ी पहननी होगी। इन्हीं पारंपरिक वस्त्रों के धारण करने के बाद ही काशी विश्वनाथ को स्पर्श किया जा सकेगा।


काशी विश्वनाथ मंदिर को लेकर तय की गई नई व्यवस्था के तहत अब जींस, पैंट, शर्ट और सूट पहने लोग दर्शन तो कर सकेंगे लेकिन उन्हें स्पर्श दर्शन (Sparsh darshan) करने की अनुमति नहीं होगी। काशी विश्‍वनाथ मंदिर में स्‍पर्श दर्शन के लिए ड्रेस कोड लागू होने के साथ-साथ स्‍पर्श दर्शन की अवधि भी बढ़ाई जा रही है। इस आशय का निर्णय मंदिर प्रशासन और काशी विद्वत परिषत के विद्वानों की हुई बैठक में लिया गया।

यह भी पढ़ें: बाथरूम में नहाने गई महिला का फिसला पैर, करंट लगने से गई जान

यह नई व्यवस्था मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के बाद लागू होगी और मंगला आरती से लेकर दोपहर की आरती तक प्रतिदिन यह व्यवस्था लागू रहेगी। विद्वानों की सहमति से तय हुआ कि विग्रह स्‍पर्श के लिए पुरुषों को धोती-कुर्ता और महिलाएं को साड़ी पहननी होगी। पैंट शर्ट, जींस, सूट, कोट पहने श्रद्धालु स्‍पर्श करने की बजाए सिर्फ दर्शन कर सकेंगे। ऐसी व्‍यवस्‍था उज्‍जैन के महाकाल समेत दक्षिण भारत के कई मंदिरों में लागू है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है