Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

नम आंखों से दी Sarkaghat के सैनिक संतोष कुमार को अंतिम विदाई

नम आंखों से दी Sarkaghat के सैनिक संतोष कुमार को अंतिम विदाई

- Advertisement -

सुंदरनगर। मणिपुर  में तैनात सरकाघाट (Sarkaghat)क्षेत्र के सैनिक संतोष कुमार का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव  किया गया। इलाके के लोगों ने नम आंखों से सैनिक को अंतिम विदाई दी गई। संतोष कुमार के बेटे विक्रांत चंदेल ने उन्हें मुखाग्नि दी। सैनिक का  पार्थिव शरीर शनिवार सुबह उनके पैतृक गांव पहुंचा। संतोष कुमार पुत्र बंशी राम निवासी सुलपुर सरकाघाट भारतीय सेना की मेडिकल कोर में सैनिक अस्पताल( Military Hospital in the Medical Corps of the Indian Army) में तैनात थे।  शनिवार सुबह क्षेत्र में जब संतोष कुमार का पार्थिव शरीर सुलपुर पहुंचा तो इलाके में सभी की आंखें नम हो गई। इसके बाद सैनिक का अंतिम संस्कार किया गया ।

 

यह भी पढ़ें :- सीएम Jai Ram की तबीयत नासाज, PGI में भर्ती रहने के बाद शिमला लौटे

संतोष कुमार वर्ष 1985 में आसाम राइफल्स ( Assam Rifles) में भर्ती हुए थे और वर्तमान में मणिपुर में तैनात थे।  परिजनों के अनुसार गत दिवस  दोपहर तीन बजे संतोष ने अपनी पत्नी से फोन पर बात की थी।.बातचीत के दौरान संतोष ने तबीयत खराब होने और दवाई लेने की बात बताई, लेकिन इसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ने लगी और उसे सैनिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया। शाम को पत्नी ने एक बार फिर फोन पर  संपर्क करने की कोशिश की और अस्पताल के डॉक्टर ने फोन उठाकर संतोष कुमार की हालत गंभीर होने की जानकारी दी। एक घंटे बाद करीब सात बजे पत्नी को फोन पर उनके निधन की जानकारी दी गई। सूचना मिलते ही संतोष कुमार के परिजन असम के लिए रवाना हो गए और शनिवार को सैनिक संतोष का शव उनके पैतृक गांव पहुंचा।

संतोष कुमार के आकस्मिक निधन पर सरकाघाट विधायक कर्नल इंद्र सिंह,एसडीएम जफर इकबाल, तहसीलदार दीनानाथ यादव, पंचायत प्रधान रिंकू चंदेल, अमीं चंद, प्रकाश चंद, सोहन लाल, फतेह सिंह, मेहर सिंह, पृथी पाल चंदेल, भाग सिंह चंदेल तथा मान सिंह चंदेल ने शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना प्रकट की है।भारतीय सेना के सूबेदार सोहन लाल ने कहा कि  सैनिक संतोष की ह्रदय गति रुकने के कारण मौत हो गई थी। संतोष कुमार सुबह पीटी और भोजन करने के बाद कमरे में मौजूद थे। इसी दौरान उन्हें हार्ट अटैक हुआ लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है