Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

कम होगा स्कूली छात्रों की पीठ का बोझ, सरकार लाई नई Policy, जानिए कितना होगा #SchoolBag का वजन

छात्र के शरीर के वजन का दस फीसदी ही रखना पड़ेगा वजन

कम होगा स्कूली छात्रों की पीठ का बोझ, सरकार लाई नई Policy, जानिए कितना होगा #SchoolBag का वजन

- Advertisement -

नई दिल्ली। स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए सबसे बड़ा बोझ (Burden) होता है उनका बैग। छोटे-छोटे बच्चों पर बैग का इतना भार लाद दिया जाता है कि वह स्कूल पहुंचने से पहले ही निढाल हो जाते हैं। इसको लेकर अब सरकार ने कड़ा कदम उठाने का फैसला लिया है। सरकार ने नई बैग पॉलिसी (School Bag policy) तैयार की है। इस पॉलिसी के मुताबिक बच्चों के स्कूल बैग का वजन उनके वजन के दस फीसदी से ज्यादा नहीं होगा। इसके तहत पहली कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों के बैग का वजन औसतन 1.6 से 2.2 किलोग्राम तय किया गया है, जबकि बारहवीं में पढ़ने वाले छात्रों के बैग का वजन अब औसतन 3.5 से 5 किलोग्राम के बीच होगा, वहीं प्री-प्राइमरी में पढ़ने वाले बच्चों के लिए कोई बैग नहीं होगा।


ये भी पढे़ं – #Cabinet: अभी बंद रहेंगे School और कॉलेज, दफ्तरों में आएंगे आधे कर्मचारी- 4 जिलों में नाइट कर्फ्यू

 


बारहवीं में पढ़ने वाले छात्रों के लिए होंगी कुल छह किताबें

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नए शैक्षणिक सत्र से इस पर सख्ती से अमल का निर्देश दिया है। बच्चों के बैग का वजन चेक करने के लिए स्कूलों में तौल मशीन (Weighing machine) रखी जाएगी। प्रकाशकों को किताबों के पीछे उसके वजन की वजह भी छापनी होगी। पहली कक्षा के छात्रों के लिए कुल तीन किताबें होंगी, जिनका कुल वजन 1,078 ग्राम होगा। वहीं, बारहवीं में पढ़ने वाले छात्रों के लिए कुल छह किताबें होंगी, जिनका वजन 4,182 ग्राम तय किया गया है। पढ़ाई के लिए समय सारणी (Time table) भी बनानी होगी। छात्रों के बैग के वजन को निर्धारित करने के लिए शिक्षा मंत्रालय ने एक उच्च स्तरीय कमेटी गठित की थी। विस्तृत सर्वे के बाद कमेटी ने इसे अंतिम रूप दिया है। स्कूली छात्रों के बैग के वजन को लेकर अलग-अलग न्यायालयों की ओर से भी समय-समय पर दिशानिर्देश दिए गए थे।

 

 

स्कूली छात्रों के बैग में किताबों का वजन 500 ग्राम से 3.5 किलोग्राम रहेगा, जबकि कॉपियों का वजन 200 ग्राम से 2.5 किलोग्राम रहेगा। इसके साथ लंच बाक्स का वजन भी दो सौ ग्राम से एक किलोग्राम और पानी की बोतल का वजन भी दो सौ ग्राम से एक किलोग्राम के बीच रहेगा। फिलहाल बैग का जो भी कुल वजन होगा, वह छात्र के शरीर के वजन का दस फीसदी ही रहेगा। इस नई पॉलिसी से छोटी से लेकर बड़ी क्लास तक स्कूली छात्रों को काफी राहत मिलने वाली है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है