Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

गुरमीत राम रहीम को 24 घंटे की सीक्रेट पैरोल: CM खट्टर समेत केवल 4 लोगों को थी जानकारी

बतौर रिपोर्ट्स, गुरमीत राम रहीम को ये पैरोल 24 अक्टूबर को मिली थी

गुरमीत राम रहीम को 24 घंटे की सीक्रेट पैरोल: CM खट्टर समेत केवल 4 लोगों को थी जानकारी

- Advertisement -

रोहतक। हरियाणा (Haryana) स्थित रोहतक के सुनारिया जेल में बंद बलात्कार के दोषी डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) पर हरियाणा सरकार कुछ अधिक ही मेहरबान हो गई है। दरअसल लंबे समय से जमानत और पैरोल की मांग कर रहे बाबा राम रहीम को 24 घंटे के सीक्रेट पैरोल (Secret Parole) पर जेल से बाहर निकले जाने की बात सामने आई है। राम रहीम को मिली यह पैरोल कितनी सीक्रेट थी इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस बारे में सिर्फ 4 लोगों को पता था। जिसमें हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) का भी नाम शामिल है। बतौर रिपोर्ट्स, गुरमीत राम रहीम को ये पैरोल 24 अक्टूबर को मिली थी।

भारी सुरक्षा के बीच कराई गई अस्पताल में भर्ती मां से मुलाक़ात

जेल में बंद राम रहीम को हरियाणा पुलिस की तीन कंपनियों की सुरक्षा में गोपनीय तरीके से जेल से बाहर गुरुग्राम में लाया गया और यहां पर मेदांता अस्पताल में गुरमीत राम रहीम ने अपनी मां से मुलाकात की। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में गुरमीत राम रहीम का इलाज चल रहा है। इस दौरान अस्पताल में ही भारी सुरक्षा के बीच पुलिस अधिकारियों ने राम रहीम की मुलाकात उसकी माता नसीब कौर से कराई। बता दें कि इससे पहले भी अपनी मां से मिलने के लिए गुरमीत राम रहीम कई बार पैरोल की याचिका अदालत में लगा चुके हैं। हालांकि तब उन्हें हरियाणा सरकार की तरफ से इसके लिए इजाजत नहीं मिल सकी थी। जिसके बाद आखिरकार 24 अक्टूबर के लिए गुरमीत राम रहीम की याचिका स्वीकार हो गई।

यह भी पढ़ें: दिवाली से पहले चंडीगढ़ के बाद #Haryana में भी लगाया गया पटाखों पर बैन

अब गुरमीत राम रहीम को मिली इस सीक्रेट पैरोल को लेकर तरह-तरह के सवाल उठने लगे हैं। गुरमीत राम रहीम के समर्थकों की विशाल संख्या को देखते हुए उसे जेल से बाहर लाना प्रशासन के लिए काफी चुनौतीपूर्ण था। ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से पुलिस ने राम रहीम के जेल वैन में चारों तरफ से पर्दे लगा दिए थे, ताकि उस पर किसी की नजर ना पड़े। वहीं मां से मुलाक़ात के बाद बाद को वापस सुनारिया जेल में ले जाकर राम रहीम को उसकी बैरक में बंद कर दिया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है