Covid-19 Update

1,64,355
मामले (हिमाचल)
1,28,982
मरीज ठीक हुए
2432
मौत
25,227,970
मामले (भारत)
164,275,753
मामले (दुनिया)
×

Breaking: दिल्ली का Himachal Bhawan-Sadan अब फंसे हुए हिमाचलियों के लिए हुआ दूर

Breaking: दिल्ली का Himachal Bhawan-Sadan अब फंसे हुए हिमाचलियों के लिए हुआ दूर

- Advertisement -

दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली Delhi स्थित हिमाचल भवन व सदन (Himachal Bhawan-Sadan) अब उन हिमाचलियों के लिए दूर लग रहा है, जिन्हें सरकार पहले यहां आश्रय देने की सोच रख रही थी। हालांकि, दो दिन पहले हिमाचल सरकार ने इस बारे में आदेश भी जारी कर दिए थे कि जो हिमाचली स्टूडेंट या दूसरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लगे लॉकडाउन में फंस गए हैं, उन्हें भवन व सदन में ठहरने व खाने की व्यवस्था की जाएगी। लेकिन वह आदेश स्पष्ट नहीं हो रहे थे, चूंकि उसमें ना ही तो हेल्थ रिलेटड कोई बात कही गई थी ना ही सेनिटेशन की बात थी।



ऐसे में इस बात का खतरा दिखने लगा था कि, कहीं भीड़ में कोई एक संक्रमित आ गया तो ऐसी स्थिति में क्या होगा। इसी बीच, सोमवार रात दिल्ली में निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के मरकज का मामला सामने आते ही हिमाचल सरकार ने अपने दो दिन पुराने आदेशों को नए सिरे से जारी करते हुए लिखा है कि लॉकडाउन के दौरान केंद्रीय गह सचिव द्वारा जारी की गई गाइडलाइन को फॉलो किया जाएगा। इसके साथ ही ये भी स्पष्ट कर दिया गया है कि नियंत्रण कक्ष जो भवन व सदन में स्थापित किए गए हैं,वह बरकरार रहेंगे व वहां आनी वाली हर फोन कॉल पर गाइड करने का काम किया जाएगा। यानी अब दिल्ली स्थित भवन व सदन में इस महामारी के दौरान फंसे हुए प्रदेश के स्टूडेंट व दूसरे लोगों को ठकरने व खाने की व्यवस्था नहीं दी जाएगी। चूंकि, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में हिमाचल सरकार (Himachal Government) अपने स्तर पर कोई निर्णय नहीं ले सकती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है