Covid-19 Update

2,00,328
मामले (हिमाचल)
1,94,235
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

#Him_Startup योजना के तहत 10 करोड़ रुपये का उद्यम कोष स्थापित

सीएम जयराम ठाकुर ने दी जानकारी, उद्यमियों को बढ़ावा देने को किया ऐसा

#Him_Startup योजना के तहत 10 करोड़ रुपये का उद्यम कोष स्थापित

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश के नए उद्यमियों को बढ़ावा देने और प्रोत्साहित करने के लिए हिम स्टार्ट अप (Him Start Up) योजना के अंतर्गत 10 करोड़ रुपये का उद्यम कोष (वेंचर फंड) स्थापित किया है। आईआईटी मंडी (IIT Mandi) द्वारा आयोजित हिमालय स्टार्ट अप ट्रैक के चौथे संस्करण के अवसर पर सीएम ने आज नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से यह बात कही। उन्होंने कहा कि स्टार्ट अप इंडिया पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की संकल्पना है, जिसने उद्यमियों के सपनों को पंख लगाए हैं और यह कार्यक्रम देश की अर्थव्यवस्था में योगदान दे रहा है। उन्होंने कहा कि आईआईटी मंडी पिछले चार वर्ष से इस दिशा में महत्वपूर्ण योगदान दे रही है और देशभर में 100 से ज्यादा स्टार्ट अप आईआईटी मंडी द्वारा क्रियान्वित किए जाने वाले केटालिस्ट इन्क्यूबेशन प्रोग्राम से लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह हम सबके लिए गर्व का विषय है कि देशभर में यह प्रतिष्ठित संस्थान उद्यमिता और स्टार्ट अप सूचकांक में सातवें स्थान पर है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में किए गए प्रयासों से राज्य को भी राष्ट्रीय स्तर पर सराहा गया है।

यह भी पढ़ें: #cmjairamthakur ने शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र को समर्पित की करोड़ों की परियोजनाएं

उन्होंने कहा कि स्वरोजगार के अवसर पैदा करने के लिए मुख्यमंत्री स्टार्टअप योजना आरंभ की गई है और इस कार्यक्रम के तहत नवोमेष विचारों वाले युवाओं को एक वर्ष के लिए 25 हजार रुपये प्रति माह दिए जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त, विचारों के कार्यान्वयन और मार्किटिंग के लिए अधिकतम 10 लाख रुपये की सहायता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि उद्यमियों को राष्ट्रीय स्तर पर स्टार्ट अप को पेटेंट फाइल करने के लिए दो लाख रुपये और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेटेंट फाइल करने के लिए 10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम स्वरोजगार उद्यम के लिए प्रयासरत प्रतिभाशाली युवाओं को बढ़ावा दे रहा है।


यह भी पढ़ें: #JaiRam बोले- राष्ट्रपति की मंजूरी को भेजा जाएगा धार्मिक स्वतंत्रता कानून

इस योजना में राज्य के प्रतिष्ठित संस्थानों जैसे आईआईटी मंडी, एनआईटी हमीरपुर (NIT Hamirpur), विभिन्न सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों में, विभिन्न क्षेत्रों में जागरूकता लाने के लिए इन्क्यूबेशन केंद्र स्थापित करने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि इन केंद्रों के माध्यम से तीन वर्ष के लिए 30 लाख रुपये की सहायता प्रदान की जा रही है और 818 प्राप्त आवेदनों में से इन्क्यूबेशन केंद्रों (Incubation Centers) ने 132 स्टार्ट अप में से 54 को पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि 78 स्टार्ट अप इन्क्यूबेशन में हैं जबकि 30 स्टार्ट अप तैयार हैं।

यह भी पढ़ें: #घर खरीदने का है सपना, यहां मिलेगा 2.67 लाख रुपए तक का #फायदा, जानिए कैसे उठा सकते हैं योजना का लाभ

सीएम ने तकनीकी के विकास तथा पहले से स्थापित तकनीक को सुदृढ़ करने पर बल दिया, क्योंकि तकनीक विकास और वृद्धि की रीढ़ है। उन्होंने कहा कि तकनीकी उन्नति के कारण ही कोरोना महामारी द्वारा उत्पन्न चुनौतियों के मध्य गतिविधियों को वर्चुअल मोड द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज हम अपने जीवन में डिजिटल इंडिया के परिणाम देख रहे हैं। उन्होंने इसके लिए पीएम का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह (Industries Minister Bikram Singh) ने कहा कि राज्य सरकार बड़े पैमाने में उद्यमता को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने सीएम का 10 करोड़ रुपये के उद्यम कोष (वेंचर फंड) स्थापित करने तथा युवाओं के लिए स्वरोजगार सृजित करने के लिए आरंभ की गई विभिन्न अभिनव योजनाएं के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने राज्य में उद्यमियों को दिए जा रहे विभिन्न प्रोत्साहन की विस्तृत जानकारी दी। आईआईटी मंडी के निदेशक एके चर्तुवेदी ने सीएम जयराम ठाकुर का स्वागत किया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है