×

Kangra में दवाइयों की होगी होम डिलीवरी, दवाई विक्रेताओं का बनेगा व्हाट्सएप ग्रुप

Kangra में दवाइयों की होगी होम डिलीवरी, दवाई विक्रेताओं का बनेगा व्हाट्सएप ग्रुप

- Advertisement -

धर्मशाला। डीसी कांगड़ा (Kangra) राकेश प्रजापति ने आदेश जारी कर जिला के विभिन्न क्षेत्रों के दवाई विक्रेताओं का व्हाट्सएप (Whatsapp) ग्रुप बनाने को कहा है। ये दवाई विक्रेता विशेष परिस्थितियों में आवश्यक दवाइयों की होम डिलीवरी भी सुनिश्चित करेंगे। जिला प्रशासन द्वारा उत्तर भारत से दवाइयां लाने के लिए इन विक्रेताओं को वाहन ले जाने
की अनुमति भी प्रदान की जाएगी। जिला प्रशासन द्वारा सभी खाद्य वस्तुओें एवं दवाइयों की दुकानों को सुबह सात बजे से दोपहर एक बजे तक खोलने का समय निर्धारित किया गया है। इन दुकानों के बाहर ग्राहकों के खड़े होने के लिए एक मीटर की दूरी चिह्न्ति करना जरूरी है। इसके अलावा सैनिटाइजर तथा हैंडवॉश का प्रावधान करना जरूरी है और प्रशासन द्वारा अपील भी की गई है कि दुकानों में भीड़ एकत्रित नहीं होने दें।


सब्जियां, दूध, ब्रेड आवश्यक खाद्य सामग्री लाने की सुचारू आपूर्ति और खाद्य सामग्री ले जाने वाले वाहनों की आवाजाही पर कोई रोक नहीं है। खाद्य वस्तुओं को ले जाने वाला वाहन गुड्स कैरियर हो और इसमें एक चालक तथा एक सहायक के ही बैठने का प्रावधान किया गया है।

जिला प्रशासन द्वारा एपीएमसी (APMC) को ग्रामीण स्तर से किसानों से उत्पादों को खरीदने तथा वहां से एकत्रित करने के लिए परमिट सहित वाहनों की व्यवस्था करने के आदेश दिए गए हैं। जिला प्रशासन द्वारा जिलाधीश होशियापर तथा एचपी गैस कंपनी से संपर्क किया गया तथा एचपी गैस कंपनी द्वारा आपूर्ति बहाल कर दी गई है तथा स्थिति अब सामान्य है। लोगों से अपील की गई है कि घरों में सिलेंडरों का भंडारण नहीं करें।

सरकार द्वारा प्राइवेट क्लीनिकों को खुले रखने के आदेश दिए हैं। इन क्लीनिकों को स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन्स के अनुसार ही कार्य करना होगा तथा किसी भी स्तर भी जांच के लिए आए रोगी में कोरोना के लक्षण पाए जाने अथवा उसके पिछले 28 दिनों की विदेश प्रवास की जानकारी मिलने पर स्वास्थ्य विभाग को सूचित करना जरूरी होगा। गद्दी अपने
पशुधन के साथ स्वतंत्र रूप से एक स्थान से दूसरे स्थान पर जा सकते हैं। अन्य जिलों तथा राज्यों में आवागमन पूरी तरह से वर्जित है तथा बीमारी की स्थिति में पीजीआई या अस्पताल जाने के लिए एसडीएम के माध्यम से लिखित अनुमति के साथ जाया जा सकता है। जिला में संबंधित उपमंडलाधिकारियों को आवश्यक खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए हैं तथा अगर किसी क्षेत्र में खाद्य सामग्री किसी कारणवश नहीं पहुंचे तो एसडीएम से संपर्क करें।

डीसी राकेश प्रजापति ने कहा कि जिला में सेवानिवृत्त चिकित्सकों से आग्रह किया गया है कि वह एसडीएम से संपर्क करें या फिर टोल फ्री नंबर 104 तथा 1077 पर पर अपने मोबाइल नंबर तथा अन्य जानकारियां दें, ताकि उनकी सेवाओं की आपातकाल में मदद ली जा सके। डीसी ने कहा कि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए अपने घरों में ही रहें तथा बहुत जरूरी हो तो ही घर से बाहर निकलें जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है