Covid-19 Update

3,12, 233
मामले (हिमाचल)
3, 07, 924
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,599,466
मामले (भारत)
623,690,452
मामले (दुनिया)

ऐसे पासवर्ड और एटीएम पिन चुराते हैं हैकर्स, हो जाएं सावधान

मोबाइल भी हैक कर लेते हैं हैकर्स

ऐसे पासवर्ड और एटीएम पिन चुराते हैं हैकर्स, हो जाएं सावधान

- Advertisement -

आजकल साइबर क्राइम की घटनाएं बढ़ गई हैं। हैकर्स (Hackers) कई तरीकों से यूजर्स के डिवाइस को हैक करके उनके पासवर्ड चुरा रहे हैं। साइबर क्राइम से बचने के लिए आपको समय-समय पर अपना पासवर्ड अपडेट करना चाहिए। कई लोग अपने डेटा को सुरक्षित रखने के लिए पुराने पासवर्ड को मामूली सा अपडेट कर नया बना लेते हैं, जो कि बिल्कुल सुरक्षित नहीं है।

यह भी पढ़ें- ऐसे पता करें अपनी लॉगिन आईडी और पासवर्ड, इन आसान टिप्स को करें फॉलो

रिपोर्ट्स के अनुसार, ब्रूट फोर्स अटैक में इस्तेमाल होने वाले 93 फीसदी पासवर्ड 8 या ज्यादा कैरेक्टर के होते हैं। जबकि, 54 परसेंट ऑर्गेनाइजेशन के पास वर्क पासवर्ड मैनेज करने के लिए कोई टूल नहीं है। जानकारी के अनुसार, 42 फीसदी सीजनल पासवर्ड में ‘Summer’ शब्द ज्यादा पाया गया है।

ऐसे करते हैं हैक

शोल्डर सर्फिंग में हैकर्स लोगों को मोबाइल में तांक-झांक करके पासवर्ड चोरी करते हैं। इस तरह की घटना एटीएम (ATM) के पिन चोरी करने में होती है। वहीं, हैकर्स कई तरीकों से पासवर्ड हैक करते हैं, जिनमें ब्रूट फोर्स अटैक, सोशल इंजीनियरिंग, कीलोगर अटैक, शोल्डर सर्फिंग, पासवर्ड स्प्रे अटैक और क्रडिटेंशल सर्फिंग आदि शामिल हैं। ब्रूट फोर्स अटैक में साइबर क्रिमिनल्स स्कैमर्स हैकिंग सॉफ्टवेयर की मदद से कुछ कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल करके यूजर्स के पासवर्ड को खोलने की कोशिश करते है। वहीं, क्रेडिेशल स्टफिंग (Credential stuffing) में साइबर क्रिमिनल्स स्पाईवेयर के द्वारा किसी यूजर के क्रेडेंशियल्स को चोरी करते हैं।

बता दें कि सोशल इंजीनियरिंग भी हैकिंग का एक तरीका है, जिसमें हैकर्स एक फर्जी सोशल इंजीनियरिंग वेबसाइट बनाते हैं। यानी अगर कोई यूजर अपने क्रेडेंशियल्स इसमें डालता है तो वह हैकर्स के जाल में फंस जाता है। वहीं, कीलोगर अटैक में हैकर्स स्पाईवेयर की मदद से यूजर्स की-बोर्ड टाइपिंग को ट्रैक और रिकॉर्ड करते हैं। गौरतलब है कि जब कोई भी हैकर चोरी किए हुए लाखों पासवर्ड का इस्तेमाल कुछ अकाउंट्स पर करता है तो इसे पासवर्ड स्पे अटैक कहते हैं और इससे बचने के लिए आपको अपने पासवर्ड समय-समय पर बदलते रहने चाहिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है