Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

वुहान से लौटे भारतीय लोग, दिल्ली-हरियाणा में हुई ठहराने की व्यवस्था

वुहान से लौटे भारतीय लोग, दिल्ली-हरियाणा में हुई ठहराने की व्यवस्था

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (CoronaCirus) की दहशत के बीच चीन के वुहान से भारतीय लोगों को एयरलिफ्ट (Airlift) कर भारत लाया जा चुका है। भारतीय लोगों को लेकर आई एयर इंडिया की फ्लाइट ने शुक्रवार देर रात चीन के वुहान से उड़ान भरी थी। यहां लोगो की निगरानी के लिए दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल (Ram Manohar Lohia Hospital) के 5 डॉक्टरों की टीम भी शामिल थी। चीन से लौटे ये सभी लोग अब दिल्ली और हरियाणा (Haryana)में बने कैंपो में ठहरेंगे। इन लोगों को यहां 14 दिन तक डॉक्टर्स की निगरानी में रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें: पार्किंग को लेकर Taxi Driver भिड़े, एक को आई गंभीर चोटें

भारतीय लोग भारत में सुबह 7 बजे पहुंच गए हैं। जहां से उन्हें दिल्ली में ITPB के छावला कैंप ले जा गया है। चीन से लौटे 324 लोगों में 211 छात्र हैं, जबकि 110 लोग ऐसे है जो वहां काम करते हैं। भारत सरकार ने चीन से आए करीब 600 छात्रों और अन्य भारतीयों को दिल्ली के छावला व हरियाणा के मानेसर कैंप में ठहराने की वयवस्था की है। इसके अलावा एयरपोर्ट पर भी एक स्क्रीनिंग कैंप (Screening camp) बनाया गया है जिससे चीन से लौटे यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। हालांकि इन कैंपो में ले जाने से पहले इन छात्रों और लोगों की भी स्क्रीनिंग की जानी है। बता दें, यह वायरस एक इंसान से दूसरे में फ़ैल रहा है इसलिए कोरोना वायरस की चपेट में आए लोगों को अलग से रहने के लिए कहा गया है ताकि अन्य लोगों को इसकी चपेट में आने से रोका जा सके।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है