Covid-19 Update

2,62,087
मामले (हिमाचल)
2, 42, 589
मरीज ठीक हुए
3927*
मौत
39,543,328
मामले (भारत)
352,920,702
मामले (दुनिया)

हिमाचल: खो-खो प्रतियोगिता में पहुंची यूपी की दूसरी टीम आमरण अनशन पर बैठी

कोच प्रीति के साथ 22 खिलाड़ी कर रहे प्रदर्शनए डीसी ऊना राघव शर्मा को सुनाया दुखड़ा।

हिमाचल: खो-खो प्रतियोगिता में पहुंची यूपी की दूसरी टीम आमरण अनशन पर बैठी

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल के ऊना (Una) जिला के इंदिरा मैदान में शुरू हुई 31वीं राष्ट्रीय खो-खो प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश राज्य की दो टीमें पहुंचने से बवाल मच गया। उत्तर प्रदेश खो-खो एसोसिएशन की टीम को मार्च पास्ट में भाग ना लेने और प्रतियोगिता से बाहर होने के निर्देश भारतीय खो खो महासंघ महासचिव एमएस त्यागी ने दे दिए थे। जिसके बाद टीम के मैनेजर, कोच और खिलाड़ियों (Palayers) के होश उड़ गए। मामले में एसोसिएशन की टीम कोच एवं खो-खो अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी प्रीति गुप्ता ने एमएस त्यागी पर अभद्र व्यवहार के आरोप लगाए। प्रतियोगिता में प्रवेश न देने के विरोध में एसोसिएशन ने करीब 22 खिलाड़ियों के साथ डीसी आवास के सामने अनशन और विरोध प्रदर्शन (Protest) का ऐलान किया। इसके संबंध में बीते रोज ही टीम के प्रबंधकों ने उत्तर प्रदेश और हिमाचल के मुख्यमंत्रियों को मेल के जरिये विरोध करने की सूचना दे दी थी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल करेगा राष्ट्रीय खो-खो प्रतियोगिता की मेजबानी, 840 खिलाड़ी दिखाएंगे दमखम

 

 

बाकायदा डीसी ऊना (DC Una) राघव शर्मा, एसपी ऊना को भी मेल कर डीसी आवास के बाहर धरना देने की सूचना दी गई। प्रतियोगिता से बाहर की गई टीम एसोसिएशन के कोच प्रीति गुप्ता प्रदेश के करीब 22 बच्चों के साथ डीसी आवास पहुंच गई और अनशन पर बैठ गए। कोच प्रीति गुप्ता ने कहा कि खिलाड़ी ऊना की राष्ट्रीय स्तर की खो खो प्रतियोगिता में भाग लेने आए हैं। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए उत्तर प्रदेश खो-खो संघ का चुनाव दिल्ली हाइकोर्ट के निर्देश पर रिटायर्ड जस्टिस डीपी सिंह ने कराया था। इसके बाद कानूनन इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए बाकायदा 25 हजार रुपये की फीस इंडिया खो खो एसोसिएशन के पास जमा भी कराई। सैंकड़ों मील का सफर तय करने के बाद शुक्रवार शाम आठ बजे जहां ऊना पहुंच गए थे, लेकिन जब प्रतियोगिता के शुभारंभ अवसर पर शनिवार सुबह मार्च पास्ट में भाग लेने आए तो एमएस त्यागी ने पूरी टीम को वहां से बाहर जाने के लिए कह दिया। प्रीति गुप्ता का कहना है कि जब तक उनकी टीम को प्रतियोगिता में खेलने का मौका नहीं दिया जाता तब तक वह ऐसे ही धरना प्रदर्शन और आमरण अनशन पर बैठी रहेगी।

यह भी पढ़ें: यूपी से ऊना खेलने आए खिलाड़ियों ने दी आत्महत्या की धमकी, पढ़े क्या था माजरा

क्या कहते हैं डीसी ऊना

डीसी ऊना राघव शर्मा ने बताया कि यूपी की दो टीम के बीच विवाद चल रहा है। एक टीम ने मामला ध्यान में रखा है। कोर्ट के ऑर्डर सहित अन्य दस्तावेज दिए हैं, जिसका अध्ययन करके व खो-खो संघ से बात करके समाधान निकाला जाएगा। यदि इनकी बात सही पाई जाती है, तो खो-खो संघ को बोला जाएगा कि प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का अवसर दिया जाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है