Covid-19 Update

2, 52, 042
मामले (हिमाचल)
2, 33, 188
मरीज ठीक हुए
3892*
मौत
38,218,773
मामले (भारत)
339,486,288
मामले (दुनिया)

यूपी से ऊना खेलने आए खिलाड़ियों ने दी आत्महत्या की धमकी, पढ़े क्या था माजरा

एक ही राज्य से प्रतियोगिता में पहुंची दो टीमों में हुआ बवाल

यूपी से ऊना खेलने आए खिलाड़ियों ने दी आत्महत्या की धमकी, पढ़े क्या था माजरा

- Advertisement -

ऊना। इंदिरा गांधी खेल परिसर में आज शुरू हुई राष्ट्रीय स्तर की सब जूनियर खो-खो प्रतियोगिता के दौरान उस वक्त हंगामा खड़ा हो गया जब उत्तर प्रदेश से दो दीमें प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए पहुंच गई। प्रतियोगिता में भाग ना लेने देने की सूरत में नन्हे खिलाड़ियों ने आत्महत्या तक की चेतावनी दे डाली। उत्तर प्रदेश में खो-खो खेल के महासंघ के बीच पंजीकरण को लेकर दो गुटों में उपजे विवाद के चलते एक ही राज्य से दो टीमें प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए पहुंच गई। एक तरफ जहां पहले पहुंची टीम प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह के दौरान मैदान में खड़ी थी वहीं बाद में पहुंची टीम मैदान के बाहर खुद के असली होने के दावे कर रही थी। बाद में पहुंची टीम की कोच ने खो-खो महासंघ के राष्ट्रीय महासचिव पर गंभीर आरोप भी जड़े। खो-खो संघ के राष्ट्रीय महासचिव ने इन आरोपों को खारिज किया। असली नकली के विवाद को लेकर प्रतियोगिता के दौरान काफी गहमागहमी भरा माहौल भी बन गया।

यह भी पढ़ें: ऊना में सुबह-सवेरे सड़क पर उतरे देश के विभिन्न राज्यों से आए नन्हे खिलाड़ी

हालांकि बाद में पहुंची टीम को खो-खो संघ के राष्ट्रीय महासचिव ने मैदान से पुलिस की मदद से बाहर करवाया। बाद में प्रतियोगिता में भाग लेने पहुंची टीम की कोच और खो-खो में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गोल्ड मेडल हासिल करने का दावा करने वाली प्रीति गुप्ता का आरोप था कि खो-खो महासंघ के राष्ट्रीय महासचिव ने उनकी टीम को पुलिस की मदद से धक्के देकर मैदान से बाहर भेजा है। उन्होंने दावा किया कि उनके पास उत्तर प्रदेश में खो खो महासंघ की सही मान्यता के दस्तावेज हैं और उस महासंघ को अदालत ने भी सही करार दिया है। लेकिन महासंघ के राष्ट्रीय महासचिव नहीं चाहते कि उनकी टीम प्रतियोगिता में भाग ले। वही इस टीम में शामिल नन्हे खिलाड़ियों ने चेताया कि यदि उनकी टीम को प्रतियोगिता में भाग नहीं लेने दिया गया तो वह आत्महत्या भी कर सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ खो-खो महासंघ के राष्ट्रीय महासचिव एमएस त्यागी का दावा है कि अखिल भारतीय महासंघ द्वारा चयनित खिलाडियों को इस प्रतियोगिता में शामिल किया गया है और वह टीम इस प्रतियोगिता में अपने सभी मैच खेलेगी। उन्होंने कहा कि जो टीम बाहर की गई है वो फेडरेशन में मान्यता प्राप्त नहीं है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है