Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

ये है वो नदी जो पहाड़ों से निकलकर समुद्र में नहीं मिलती-पानी हो जाता है विलुप्त

शुरुआती 100 किलोमीटर तक इसका पानी मीठा रहता है, लोग इसकी पूजा भी करते हैं

ये है वो नदी जो पहाड़ों से निकलकर समुद्र में नहीं मिलती-पानी हो जाता है विलुप्त

- Advertisement -

नदियां-नाले ये सब पहाड़ों से ही तो निकलते हैं,आगे चलकर समुद्र में समा जाते हैं। लेकिन इस सबके बीच एक ऐसी नदी भी है जो समुद्र (Sea) में नहीं मिलती है, लेकिन इसका पानी विलुप्त हो जाता है।आपको बता दे इस नदी का नाम है लूनी नदी। लूनी नदी (Luni River) का उद्गम राजस्थान के अजमेर जिले में 772 मीटर की ऊंचाई पर स्थित नाग की पहाड़ियों से होता है। ये नदी अजमेर से निकल कर दक्षिण-पश्चिम राजस्थान नागौर, जोधपुर, पाली, बाड़मेर, जालौर ज़िलों से होकर बहती हुई गुजरात (Gujarat) के कच्छ जिले में प्रवेश करती है और कच्छ के रण में ही कहीं विलुप्त हो जाती है।

यह भी पढ़ें: दुनिया का ऐसा गांव जहां का हर बाशिंदा है करोड़पति

नदी की कुल लंबाई 495 किमी है। राजस्थान (Rajasthan) में इसकी कुल लंबाई 330 किमी है। इस नदी की खासियत ये है कि ये बालोतरा (Barmer) के बाद खारी हो जाती है, क्योंकि रेगिस्तान क्षेत्र से गुजरने पर रेत में मिले नमक के कण पानी में मिल जाते हैं। इस कारण इसका पानी खारा हो जाता है। यही नहीं ये नदी किसी समुद्र में नहीं, बल्कि कच्छ के रण में ही सूख जाती है। बताते हैं कि शुरुआती 100 किलोमीटर तक इसका पानी मीठा रहता है और इसी से राजस्थान के कई जिलों में सिंचाई की जाती है। इसलिए स्थानीय लोग इसकी पूजा भी करते हैं। नदी के सुंदर और प्राकृतिक नज़ारों को देखने का सबसे अच्छा समय (Monsoon) मानसून बताया गया है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है