Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

महेश्वर बोले- बाहरी राज्यों में फंसे बच्चों व बुजुर्गों की हो घर वापसी

महेश्वर बोले- बाहरी राज्यों में फंसे बच्चों व बुजुर्गों की हो घर वापसी

- Advertisement -

कुल्लू। पूर्व सांसद महेश्वर सिंह ने प्रदेश सरकार से आग्रह किया है कि यूपी (UP) की तर्ज पर बाहरी राज्यों में फंसे हिमाचल (Himachal) के बच्चों एवं बुजुर्गों को प्रदेश में लाया जाए। उन्होंने प्रदेश सरकार को सुझाव देते हुए कहा कि जिस प्रकार उत्तर प्रदेश (UP) सरकार ने बाहरी राज्यों में फंसे बच्चों को घर लाया है, उसी तर्ज पर प्रदेश सरकार भी बच्चों को बुजुर्गों को नियमानुसार घर लाए। उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रदेश सरकार पहले उनको क्वारंटाइन (Quarantine) करें, उसके बाद उनके घरों की ओर जाने की इजाजत दें। वहीं उन्होंने जिला प्रशासन से सवाल पूछते हुए कहा है कि क्या एडीएम व एसडीएम ही लॉकडाउन के दौरान पड़ रहे बोझ को उठाने के लिए सक्षम हैं।

यह भी पढ़ें: Chamba में लॉकडाउन के बीच 323 बोतल देसी शराब बरामद, दो पर केस

महेश्वर सिंह ने जिलाधीश (DC) से सवाल किया है और पूछा है कि किस काम के लिए किस अफसर से बात करनी है, कृपया स्पष्ट करें। उन्होंने कहा कि एसडीएम के हवाले राशन वितरण, पास बनाने सहित अन्य कई कामकाज हैं तथा ऐसे में लोगों को पेश आ रही दिक्कतों को कौन हल करेगा, इसका स्पष्टीकरण प्रशासन दे। पूर्व सांसद महेश्वर सिंह ने कहा कि कुल्लू ज़िला की आर्थिकी कृषि बागवानी पर काफी हद तक निर्भर है व इस दौरान किसानों बागवानों को स्पेशल परमिट जारी किए जाएं, जिससे कि वह अपने बगीचों में जाकर स्प्रे व अन्य आवश्यक कार्यों की पूर्ति कर सकें और पुलिस नाकों पर वह पास दिखा सकें। महेश्वर सिंह ने कहा कि लॉकडाउन की सख़्ती बेशक जनता के हित में है, परंतु यह सख्ती इतनी भी नहीं होनी चाहिए जनता इससे उक्ता ही जाए।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है