Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

जयराम के ‘क्वारंटाइन डेस्टिनेशन’ के बयान पर Mukesh और राठौर का वार, कही ये बात

जयराम के ‘क्वारंटाइन डेस्टिनेशन’ के बयान पर Mukesh और राठौर का वार, कही ये बात

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) के हिमाचल में क्वारंटाइन डेस्टिनेशन (Quarantine Destinations) के बयान पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर का हिमाचल को क्वारंटाइन सेंटर ऑफ इंडिया बनाने का ख्वाब सही नहीं है। यह एक गैर जिम्मेदाराना और अनैतिक बयान है। यह ठीक है कि हिमाचल में पर्वत, पहाड़, नदियां और कूदरत के कई अजूबे हैं। काफी लंबे समय से टूरिज्म सेक्टर बंद पड़ा हुआ है। लेकिन, सीएम जयराम ठाकुर का यह कहना कि जिन्हें भी 14 दिन के क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा है उनका हिमाचल में स्वागत है, किसी भी सूरत में सही नहीं है। जिन्हें क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा गया है वह पहले अपना इलाज करवाएं। स्वस्थ्य लोग किसी भी समय हिमाचल में आ सकते हैं। क्वारंटाइन डेस्टिनेशन के लिए हिमाचल का चयन करना बिल्कुल ही गलत है।

यह भी पढ़ें: Corona Breaking ; हमीरपुर-कांगड़ा में दो नए मामले, 200 के करीब पहुंचा आंकड़ा

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि एक तरफ तो सीएम कह रहे हैं, 31 मई के बाद हिमाचल की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। दूसरी तरफ कोरोना के लिए फल्ड गेट खोलने की बात कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में हिमाचल में टूरिज्म (Tourism) फलेगा फूलेगा, लेकिन क्वारंटाइन सेंटर ऑफ इंडिया कभी नहीं होगा।

यह भी पढ़ें: Shimla – तीन मंजिला मकान में लगी भीषण आग, लाखों का सामान जलकर राख

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर (Kuldeep Rathore) ने सीएम जयराम ठाकुर के बयान पर हैरानी जताई है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश को देश के कोरोना प्रभावित लोगों को क्वारंटाइन सेंटर के तौर पर प्रस्तुत करना एक गलत ही नहीं, बल्कि प्रदेश के लिए खतरनाक निर्णय साबित हो सकता है। राठौर ने सीएम के इस प्रस्ताव पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा है कि कांग्रेस (Congress) को सरकार का यह निर्णय किसी भी स्तर पर मंजूर नहीं होगा। उन्होंने कहा है कि यह निर्णय प्रदेश में किसी भी महामारी के लिए खुला न्योता होगा। उन्होंने कहा है कि कोरोना को लेकर प्रदेश की स्थिति सरकार से अभी ही नहीं संभल रही है, कोविड डेस्टिनेशन से तो पूरे प्रदेश में ही इस महामारी का भयंकर खतरा उत्पन्न हो जाएगा, जो संभले नहीं संभल पाएगा। राठौर ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले चिंता का विषय हैं। सरकार इसे रोकने में कारगर साबित नहीं हो रही है। ऐसे में सीएम का प्रदेश में टूरिज्म और होटल की बिगड़ी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कोविड 19 से प्रभावित लोगों को केविड (Covid) डेस्टिनेशन के तौर पर प्रस्तुत करना एक बड़ा जनविरोधी निर्णय साबित होगा।

यह भी पढ़ें: Breaking: मुंबई से लौटी युवती निकली Corona positive,मंडी में 9 एक्टिव केस

क्या कहा था सीएम जयराम ठाकुर ने

सीएम जयराम ठाकुर ने कैबिनेट (Cabinet) बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में कहा था कि क्वारंटाइन डेस्टिनेशन की दृष्टि से अच्छे सुझाव आए हैं। कोविड-19 से डरने की बहुत ज्यादा जरूरत नहीं है। अगर क्वारंटाइन करने की दृष्टि से हिमाचल में हम कुछ ऐसी डेस्टिनेशन विकसित कर सकें, जिनमें बाहर से भी लोग आकर उन होटलों में रह सकें। तो कोरोना महामारी (Corona Epidemic) में टूरिज्म के सेक्टर को जो बहुत नुकसान हुआ है तो वहां पर हम कुछ गतिविधियां शुरू कर सकते हैं। नुकसान को रिकवर करने के लिए कुछ किया जा सकता है। कुछ एक डेस्टिनेशन और उसका प्रोटोकाल प्लान करेंगे और चर्चा करने के बाद आगामी कदम बढ़ाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है