Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,622
मामले (भारत)
196,707,763
मामले (दुनिया)
×

ब्रेकिंगः गुड़िया रेप व मर्डर के दोषी नीलू चिरानी को उम्र कैद की सजा

28 अप्रैल को इस मामले में दोषी करार दिया था आरोपी को

ब्रेकिंगः गुड़िया रेप व मर्डर के दोषी नीलू चिरानी को उम्र कैद की सजा

- Advertisement -

शिमला। कोटखाई में हुए गुड़िया रेप और मर्डर मामले (Gudiya Rape -Murder Case) में दोषी करार दिए गए नीलू चिरानी को आखिरकार आज आजीवन कारावास की सजी सुनाई है।चार वर्ष तक चले इस मामले में  जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव भारद्वाज ने आज दोषी को सजा सुनाई है। इससे पहले मंगलवार को मामले में बहस पूरी हो गई थी। दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद न्यायाधीश राजीव भारद्वाज ने सज़ा सुनाने के लिए 18 जून की तिथि निधारित की थी। आज की सुनवाई के दौरान नीलू  अदालत में मौजूद था। बता दें कि इससे पहले आरोपी नीलू चिरानी (Neelu Chirani) की सजा पर होने वाली सुनवाई करीब छह बार टलती रही है। आज जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव भारद्वाज ने गुड़िया के दोषी को उम्र कैद की सजा सुना दी। नीलू चिरानी को कोर्ट ने 28 अप्रैल को इस मामले में दोषी करार दिया था।

यह भी पढ़ें: Breaking: हिमाचल के इस शहर में सुबह से मचा रहा हंगामा- मारपीट के बाद चक्का जाम

4 जुलाई, 2017 को शिमला जिले के कोटखाई (Kotkhai) की एक छात्रा स्कूल से लौटते समय लापता (Missing) हो गई थी। 6 जुलाई को कोटखाई के तांदी के जंगल में पीड़िता का शव (Dead Body) मिला। जांच में पाया गया कि छात्रा की दुष्कर्म (Rape) के बाद हत्या (Murder) कर दी गई थी।


किशोरी के साथ दरिंदगी की इस वारदात के खिलाफ जबरदस्‍त जनाक्रोश देखने को मिला था। आक्रोशित लोगों की भीड़ ने कोटखाई थाने को आग के हवाले कर दिया था। प्रदेश हाईकोर्ट (Himachal Highcourt) ने मामले की सीबीआई जांच के सुपुर्द की थी। सीबीआई ने डीएनए परीक्षण के आधार पर अप्रैल 2018 में नीलू नामक चिरानी को गिरफ्तार किया था। जुलाई 2018 में सीबीआई ने नीलू के विरुद्ध कोर्ट में चालान पेश किया था।

कब क्या हुआ

4 जुलाई 2017- कोटखाई के हलाईला क्षेत्र से दसवीं की छात्रा गुड़िया लापता
6 जुलाई : कोटखाई के जंगल में गुड़िया का मिला शव
7 जुलाई 2017 : पोस्टमार्टम रिपोर्ट से दुष्कर्म का खुलासा
10 जुलाई : सरकार ने एसआईटी की गठित
11 जुलाई : पीड़ित परिवार को पांच लाख मुआवजा
12 जुलाई : सीएम के फेसबुक पर आरोपियों के नाम की कुछ फोटो वायरल
13 जुलाई : एसआईटी ने 6 लोग गिरफ्तार किए
14 जुलाई : ठियोग थाने पर पथराव, सीबीआई जांच की संस्तुति
17 जुलाई : राजभवन पहुंची बीजेपी ने सरकार की बर्खास्तगी की मांग उठाई
18 जुलाई : सरकार का हाईकोर्ट में सीबीआई जांच शुरू करने के लिए आवेदन
19 जुलाई : कोटखाई थाने में एक आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत हो गई
हिमाचल हाईकोर्ट ने 19 जुलाई 2017 को मामला सीबीआई के सुपुर्द किया
इसके बाद मामला सीबीआई के पास जा पहुंचा
23 जुलाई : सीबीआई ने दर्ज किए दो मामले
24 जुलाई : सीबीआई पहुंची शिमला, जांच शुरू
02 अगस्त : हाईकोर्ट में पुलिस ने सौंपी स्टेटस रिपोर्ट
03 अगस्त : कस्टडी में मौत पर पुलिस अफसरों से पूछताछ
14 अगस्त : कोटखाई थाने में तैनात संतरी के बयान
17 अगस्त : सीबीआई को हाईकोर्ट की फटकार, मांगा दो सप्ताह का समय
21 अगस्त : सीबीआई के कई रईसजादों के घरों पर छापे
29 अगस्तः को आईजी जैदी और ठियोग के डीएसपी मनोज जोशी समेत आठ पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार कर लिया।
17 नवंबरः  एसपी डीडब्ल्यूडी नेगी गिरफ्तार किया।
25 नवंबरः  को को गिरफ्तार पुलिस अफसरों के खिलाफ चार्जशीट
29 मार्च 2018 : हाईकोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट पेश कर
25 अप्रैल तक मामला सुलझाने का दावा
अप्रैल 2018 : सीबीआई ने गिरफ्तार किया चिरानी नीलू
28 अप्रैल 2021 को नीलू चरानी को दोषी करार दिया गया

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है