Covid-19 Update

2,00,328
मामले (हिमाचल)
1,94,235
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

NIC हिमाचल का कोविड सॉफ्टवेयर डिजिटल इंडिया पुरस्कार को चयनित, मिलेगा राष्ट्रपति के हाथों

30 दिसंबर को नई दिल्ली में आयोजित होगा वर्चुअल समारोह

NIC हिमाचल का कोविड सॉफ्टवेयर डिजिटल इंडिया पुरस्कार को चयनित, मिलेगा राष्ट्रपति के हाथों

- Advertisement -

शिमला। भारत सरकार ने राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, हिमाचल प्रदेश द्वारा तैयार किए गए सॉफ्टवेयर कोविड-19 सैंपल कलेक्शन मैनेजमेंट सिस्टम (Covid-19 sample collection management system) को डिजिटल इंडिया पुरस्कार-2020 (Digital India Awards -2020) के लिए चयनित किया है। इस सॉफ्टवेयर को यह पुरस्कार इनोवेशन इन पैंडेमिक श्रेणी में दिया जा रहा है। राष्ट्रपति राम नाथ कोविद यह पुरस्कार प्रदान करेंगे। इसके लिए वर्चुअल समारोह 30 दिसंबर को नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। प्रदेश के राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि राष्ट्रीय स्तर पर सॉफ्टवेयर विकसित करने की जिम्मेदारी हिमाचल प्रदेश को सौंपी गई थी। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur)के गतिशील नेतृत्व और मार्गदर्शन में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन और राज्य स्वास्थ्य विभाग की सक्रिय सहभागिता से एनआईसी हिमाचल प्रदेश ने इस सॉफ्टवेयर को डिजाइन और विकसित किया।

यह भी पढ़ें: New year Celebration को कुल्लू-मनाली आने की सोच रहे तो पढ़ लें यह खबर, पुलिस का क्या मास्टर प्लान

उन्होंने कहा कि यह सॉफ्टवेयर (Software) भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के लिए तैयार किया गया है। हिमाचल के विज्ञानियों ने एनआईसी (NIC) की महानिदेशक डॉ. नीता वर्मा के दिशा-निर्देशों के अनुसार लॉकडाउन के दौरान इस वर्ष अप्रैल माह में प्रतिदिन लगभग 20 घंटे कार्य करते हुए इसे तैयार किया। देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इसका उपयोग एक लाख से अधिक सैंपल एकत्र करने वाले लोगों द्वारा किया जा रहा है। अब तक लगभग 8 करोड़ से अधिक सैंपल इकट्ठे किए गए हैं।


 

यह भी पढ़ें: Himachal में कम हुए #Corona एक्टिव केस, अभी 3610- आज अब तक 259 लोग हुए रिकवर 

प्रवक्ता ने कहा कि कोविड-19 वायरस(Coronavirus) से संबंधित रैपिड एंटीजन टेस्ट, आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए किसी भी व्यक्ति का ब्यौरा इस सॉफ्टवेयर में प्रविष्ट किया जाता है। इसके उपरान्त उस व्यक्ति का टेस्ट लिया जाता है और टेस्ट रिपोर्ट की जानकारी इस सॉफ्टवेयर में प्रविष्ट की जाती है। उन्होंने कहा कि इस प्रणाली में एक वैब एप्लीकेशन और दो मोबाइल एप्लीकेशन शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से संक्रमित मरीजों से संबंधित जानकारी  https://covid19cc.nic.in पोर्टल पर सभी जिला दण्डाधिकारी अथवा स्वास्थ्य अधिकारियों को उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त आरोग्य सेतु ऐप में भी इस डेटा का प्रयोग किया जाता है। प्रवक्ता ने कहा कि इस सॉफ्टवेयर का राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए चयन होना राज्य एवं राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र के लिए गौरव का विषय है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है