Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,392,486
मामले (भारत)
228,078,110
मामले (दुनिया)

निर्भया गैंगरेप के दोषियों ने 23 बार तोड़े जेल के नियम, मेहनत कर कमाए 1.37 लाख

निर्भया गैंगरेप के दोषियों ने 23 बार तोड़े जेल के नियम, मेहनत कर कमाए 1.37 लाख

- Advertisement -

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप मामले में दोषियों (Nirbhaya gang-rape convicts) के फांसी की सजा से पहले तिहाड़ जेल प्रशासन के सूत्रों के जरिए बड़ा खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तिहाड़ जेल में कैद निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों ने करीब 23 बार जेल के नियम (jail rules) तोड़े। इनमें से एक ने कोई काम नहीं करने का फैसला किया जबकि अन्य तीन ने मेहनत कर कथित 1.37 लाख रुपए की कमाई की है। तीन दोषियों ने 10वीं कक्षा में दाखिला लिया लेकिन परीक्षा पास नहीं कर पाए। जेल के सूत्रों के मुताबिक, जेल के नियमों को तोड़ने पर अक्षय को एक, मुकेश को तीन, पवन को आठ और विनय को 11 बार सजा दी जा चुकी है।

राष्ट्रपति के सामने दया याचिका दायर करने वाले मुकेश ने नहीं किया काम
सूत्रों का कहना है कि तिहाड़ जेल में रहने के दौरान दोषी अक्षय ने करीब 69 हजार रुपए बतौर मेहनताना कमाए। वहीं पवन ने 29 हजार और विनय ने करीब 39 हजार रुपए कमाए। मगर मुकेश ने जेल में काम नहीं किया। बता दें कि निर्भया के चारों दोषियों को दिल्ली की एक अदालत के फैसले के मुताबिक, 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी दी जानी है। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि गैंगरेप के दोषी मुकेश कुमार की अर्जी पर दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान एएसजी और दिल्ली सरकार के वकील ने कहा कि निर्भया के दोषियों को 22 जनवरी को फांसी नहीं दी जा सकती है। राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका पर फैसला देने के बाद दोषियों को 14 दिन का वक्त देना होगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है