Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

Parle-G बिस्कुट के लिए वरदान बना Lockdown; हुई इतनी बिक्री कि टूट गया 82 वर्षों का रिकॉर्ड

Parle-G बिस्कुट के लिए वरदान बना Lockdown; हुई इतनी बिक्री कि टूट गया 82 वर्षों का रिकॉर्ड

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच लगाया गया लॉकडाउन (Lockdown) जहां कई लोगों के लिए एक बड़ी समस्या बन गया, वहीं कुछ लोगों के लिए यह लॉकडाउन किसी वरदान से कम नहीं रहा है। ऐसा ही कुछ हुआ बीते साल से ही वित्तीय संकट से जूझ रही बिस्किट कंपनी पारले जी (Parle-G) के साथ। पारले जी को लॉकडाउन में बड़ा फायदा हुआ है। कंपनी के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान उसकी सेल बीते 8 दशकों में से सबसे ज्यादा रही है। पारले जी ने अपनी सेल का आंकड़ा स्पष्ट तौर पर नहीं दिया है, लेकिन यह जरूर बताया है कि मार्च, अप्रैल और मई के महीने में उसकी सेल 8 दशकों में टॉप पर रही है।

यह भी पढ़ें: Breaking: स्वास्थ्य घोटाले को लेकर मचे घमासान के बीच BJP विधायक दल की बैठक कल, Kangra भी होगा डिस्कस

मार्च, अप्रैल और मई आठ दशकों में कंपनी के सबसे अच्छे महीने रहे

महज 5 रुपए में मिलने वाला पारले-जी बिस्कुट का पैकेट सैकड़ों किलोमीटर पैदल चलने वाले प्रवासियों के लिए भी खूब मददगार साबित हुआ। किसी ने खुद खरीद के खाया, तो किसी को दूसरों ने मदद के तौर पर बिस्कुट बांटे। बहुत से लोगों ने तो अपने घरों में पारले-जी बिस्कुट का स्टॉक जमा कर के रख लिया। रिपोर्ट्स के अनुसार 1938 में स्थापित घरेलू ब्रांड पारले-जी ने लॉकडाउन के दौरान बिस्कुट की अधिकतम संख्या को बेचने का एक अनूठा मुकाम हासिल किया। हालांकि पारले प्रोडक्ट्स, पारले-जी ब्रांड के निर्माताओं ने विशिष्ट बिक्री संख्या शेयर करने से इनकार कर दिया, उन्होंने पुष्टि की कि मार्च, अप्रैल और मई आठ दशकों में उनके सबसे अच्छे महीने रहे हैं।


यह भी पढ़ें: J&K: आतंकी साज़िश नाकाम, हाईवे पर मिला IED किया गया डिफ्यूज़

कोरोना लॉकडाउन के दौरान बाकी कंपनियों के बिस्कुट भी खूब बिके

कंपनी के लिए यह इजाफा इसलिए भी बेहद अहम है क्योंकि बीते साल कमजोर मांग से जूझ रही कंपनी ने बड़े पैमाने पर छंटनी तक की बात कही थी। पारले जी का कहना था कि उसकी सेल में अप्रत्याशित तौर पर गिरावट आई है। ऐसे में कोरोना के इस दौर में कंपनी की सेल में इजाफा होना उसके लिए वरदान है। बता दें कि इस कोरोना लॉकडाउन में सिर्फ पारले-जी ही नहीं, बल्कि इस दौरान बाकी कंपनियों के बिस्कुट भी खूब बिके। विशेषज्ञों के अनुसार ब्रिटानिया का गुड डे, टाइगर, मिल्क बिकिस, बार्बर्न और मैरी बिस्कुट के अलावा पारले का क्रैकजैक, मोनैको, हाइड एंड सीक जैसे बिस्कुट भी खूब बिके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है