Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,596,776
मामले (भारत)
263,226,798
मामले (दुनिया)

NIT हमीरपुर की रैंकिंग सुधारने को लेकर कवायद शुरू, अब आंकी जाएगी हर प्रोफेसर की परफॉर्मेंस

साल के अंत में मिलेगा बेस्ट टीचर का अवार्ड

NIT हमीरपुर की रैंकिंग सुधारने को लेकर कवायद शुरू, अब आंकी जाएगी हर प्रोफेसर की परफॉर्मेंस

- Advertisement -

हमीरपुर। राष्ट्रीय स्तर पर लगातार गिरती रैंकिंग में सुधार करने के लिए एनआईटी हमीरपुर प्रबंधन (NIT Hamirpur Administration) ने कदम उठाना शुरू कर दिए हैं। अब एनआईटी हमीरपुर में हर विभाग के फैकल्टी मेंबर का एनुअल अप्रेजल ऑनलाइन होगा। इस अप्रेजल में टीचिंग-लर्निंग, रिसर्च और आउटरीच प्रोजेक्ट समेत तमाम बिंदुओं पर फोकस किया जाएगा। इस साल के अंत में संस्थान की तरफ से बेस्ट टीचर अवॉर्ड (Best Teacher Award) की तरफ से दिया जाएगा। इसके साथ ही प्रबंधन ने सभी विभागों की रैंकिंग करने का भी निर्णय लिया है, ताकि राष्ट्रीय स्तर पर संस्थान की रैंकिंग में बेहतर सुधार हो सके। जल्द ही इसका निर्णय को लागू किया जाएगा। इस निर्णय के तहत हर प्रोसेसर की परफॉर्मेंस को मॉनिटर किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें:आईसीसी ने जारी की महिला वनडे रैंकिंग, झूलन गोस्वामी वनडे में दूसरे स्थान पर

रैंकिंग में सुधार की सुनिश्चिता की जाएगी

एनआईटी हमीरपुर के निदेशक डॉ ललित अवस्थी (DR. Lalait Awasthi) ने बताया कि संस्थान रैंकिंग में सुधार के लिए निर्णय लिया गया है। अब हर विभाग की रैंकिंग सुनिश्चित की जाएगी। हर विभाग के फैकल्टी मेंबर के एनुअल अप्रेजल ऑनलाइन होंगे। इस दौरान टीचिंग लर्निंग रिसर्च और आउटरीच प्रोजेक्ट में तमाम बिंदुओं पर ध्यान दिया जाएगा। कुल 100 अंकों में से हर फैकल्टी मेंबर की परफॉर्मेंस को आंका जाएगा। साथ ही साल के अंत में बेस्ट टीचर का अवार्ड भी संस्थान की तरफ से दिया जाएगा।

एनआईटी जालंधर में कर चुके हैं यह प्रयोग

उन्होंने कहा कि इस निर्णय के दूरगामी परिणाम देखने को मिलेंगे। इस कार्य को वह एनआईटी जालंधर में भी कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि फैकल्टी मेंबर की परफॉरमेंस इवेलुएशन के साथ हर विभाग की रैंकिंग भी सुनिश्चित की जाएगी। राष्ट्रीय स्तर पर संस्थान की रैकिंग से विभाग की रैंकिंग की तुलनात्मक मूल्यांकन किया जाएगा। विभिन्न रैंकिंग के निर्णय से बेहतर प्रदर्शन करने वाले विभागों और औसतन रैंकिंग से नीचे रहने वाले विभागों की भी सूची तैयार हो पाएगी।

तीन सालों से लगातार गिर रही है रैंकिंग

गौरतलब है कि पिछले लगभग 3 वर्षों से एनआईटी की रैंकिंग राष्ट्रीय स्तर पर गिरती जा रही है। वर्तमान में संस्थान की रैंकिंग राष्ट्रीय स्तर पर 99 है, जबकि इससे पहले संस्थान राष्ट्रीय स्तर पर रैंकिंग के मामले में टॉप 50 में भी रह चुका है। लेकिन पिछले कुछ वर्षों से भर्ती और अन्य अनियमितताओं के चलते विवादों में चल रहे एनआईटी हमीरपुर के रैंकिंग भी राष्ट्रीय स्तर पर गिर गई थी। अब एक तरफ रैंकिंग में सुधार के लिए एनआईटी हमीरपुर प्रबंधन नेकदम उठाने लगा है तो वहीं दूसरी ओर ट्रेनिंग और प्लेसमेंट में भी अच्छे नतीजे देखने को मिल रहे हैं। 1 माह के भीतर ही संस्थान के 2 विद्यार्थियों को यूएस और यूके के कंपनी में करोड रुपए के पैकेज पर प्लेसमेंट मिली है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है