Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,557,583
मामले (भारत)
230,543,349
मामले (दुनिया)

Punjab: आज से दिन का Curfew हटा; हेयर कटिंग सैलून, कैब, बसों समेत ये गतिविधियां हुईं शुरू

Punjab: आज से दिन का Curfew हटा; हेयर कटिंग सैलून, कैब, बसों समेत ये गतिविधियां हुईं शुरू

- Advertisement -

चंडीगढ़। पंजाब (Punjab) में सोमवार से दिन का कर्फ्यू हटाकर लॉकडाउन (Lockdown) लागू हो गया है। रात 7 बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू (Curfew) जारी रहेगा। आज चौथे फेज के देशव्यापी लॉकडाउन का पहला दिन है। केंद्र सरकार की रियायतें लागू करते हुए सूबे में नॉन कंटेनमेंट जोन में निर्माण कार्य और बसें शुरू करने, ज्वैलरी और सैलून की दुकानें खोलने का आदेश दिया गया है। एक सरकारी अधिसूचना में कहा गया है कि चार पहिया वाहन और कैब में एक चालक के साथ दो यात्रियों को ही यात्रा की अनुमति होगी।

ऑटो-रिक्शा के लिए एक चालक के साथ दो यात्रियों को लेकर जाने की अनुमति

राज्य में बाल कटवाने के लिए नाई की दुकानों को खोलने की अनुमति तो दी गई है, मगर इनका संचालन अधिक भीड़-भाड़ की स्थिति में नहीं हो सकेगा। इसके अलावा रिक्शा और ऑटो-रिक्शा के लिए एक चालक के साथ दो यात्रियों को लेकर जाने की ही अनुमति दी गई है। दोपहिया वाहन और साइकिल के लिए इन्हें चलाने वाला एक व्यक्ति या पति व पत्नी या एक नाबालिग बच्चे तक ही सीमित किया गया है।

यह भी पढ़ें: एक साथ पांच पॉजिटिव मामले आने के साथ Hamirpur के लिए राहत की भी बात

सरकारी और निजी अस्पतालों में ओपीडी की अनुमति भी दी गई है। पंजाब में सरकार ने कंटेनमेंट जोन के अलावा इंडस्ट्री, दफ्तर, कन्स्ट्रक्शन, बस, बाजार, ऑटो, दुपहिया, नाई, चौपहिया बिना परमिट वाहन को 18 मई से 31 मई के बीच सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक खोलने का फैसला लिया है।

सड़कों पर करीब 2 महीने बाद लौटी रौनक

ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में दुकान खोलने की इजाजत दी गई है। रेस्तरां को पर्याप्त सावधानी के साथ केवल घर पर खाने-पीने का सामान भेजने (होम डिलीवरी) की अनुमति है। सूबे में स्पोर्ट्स स्टेडियम भी खोलने को कहा गया है। आज इसका असर भी देखने को मिला। 31 मई तक लागू लॉकडाउन-4 के पहले दिन यहां के मोहाली, लुधियाना,जालंधर व अमृतसर समेत कई शहरों की सड़कों, बाजारों में करीब दो महीने बाद रौनक लौटी है। राज्य में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 2069 है। इनमें से 82 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं तो 41 की जान भी जा चुकी है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है