Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

Lockdown में शख्स ने Bike चुराकर किया 200 Km का सफर; घर पहुंचकर इस तरह लौटाई वापस

Lockdown में शख्स ने Bike चुराकर किया 200 Km का सफर; घर पहुंचकर इस तरह लौटाई वापस

- Advertisement -

कोयम्बटूर। कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के कारण देश भर के कई लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा। खासकर लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) को घर चलाना मुश्किल हो गया था। ऐसे में वो किसी तरह अपने घर लौटना चाहते थे। फिलहाल अब लॉकडाउन में काफी ढील दे दी गई है। इसी बीच एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने अपने परिवार को घर पहुंचाने के लिए एक बाइक चुराई और फिर पार्सल कर मालिक को वापस लौटा दी।

यह भी पढ़ें: बड़ी चूक: Kangra में Covid-19 पॉजिटिव पाए गए शख्स की पत्नी को भेज दिया था घर, प्रधान को भी नहीं दी जानकारी

18 मई को चोरी हुई थी बाइक, पुलिस ने व्यस्तता के कारण खोजने से किया था इंकार

ये घटना तमिलनाडु के कोयम्बटूर की है। यहां लेथ (खराद) वर्कशॉप के मालिक को उसकी चोरी हुई मोटर साइकिल शनिवार को वापस मिल गई। वर्कशॉप मालिक वी सुरेश कुमार को पार्सल एजेंसी से फोन आया कि एक उन्हें एक मोटर साइकिल भेजी गई है। इसके बाद जब बाइक घर आई तो उनकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा जब यह गाड़ी और कोई नहीं उनकी हीरो स्प्लेंडर बाइक है जो 18 मई को चोरी हो गई थी। कुमार बताते हैं कि जब बाइक चोरी हो गई तो कुमार ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस ने कोरोना ड्यूटी में व्यस्त होने का बहाना देते हुए मामले की छानबीन करने से इंकार कर दिया था।


यह भी पढ़ें: Modi cabinet: किसानों से लेकर उद्योग जगत तक, आज लिए गए ये 6 अहम् फैसले

शख्स ने बाइक को पार्सल से भेजने लिए उसने 13,400 रुपए का भुगतान किया

रिपोर्ट्स के अनुसार तमिलनाडु के कोयंबटूर में यह शख्स एक चाय की दुकान चलाता था लेकिन लॉकडाउन के बाद उसने अपने परिवार को तंजावुर में घर पहुंचाने के लिए एक मोटरबाइक चोरी की थी। कोयंबटूर से तंजावुर लगभग 268 किलोमीटर दूर है। हालांकि, 2 हफ्ते बाद शख्स ने मोटरबाइक उसके मालिक को पार्सल कर दी। वहीं बाइक चुराने वाले शख्स ने बाइक को पार्सल से भेजने लिए उसने 13,400 रुपए का भुगतान किया। हालांकि, कुमार को भी मोटर साइकिल प्राप्त करते वक्त 1400 रुपए अतिरिक्त भुगतान करना पड़ा क्योंकि इसके इंश्योरेंस कागज की कीमत 34 हजार रुपए थी। बाइक मालिक ने बताया कि बाइक चोरी होने के बाद उन्होंने सीसीटीवी फुटेज की मदद से बाइक चुराने वाले की पहचान कर ली थी, लेकिन उसने जल्द ही बाइक को वापस भजे दिया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है