Covid-19 Update

2, 84, 952
मामले (हिमाचल)
2, 80, 739
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,125,370
मामले (भारत)
523,236,943
मामले (दुनिया)

नहीं होगी कोविड-19 वैक्सीन की प्रोडक्शन, जानिए क्या है कारण

20 करोड़ डोज का पड़ा हुआ है स्टॉक

नहीं होगी कोविड-19 वैक्सीन की प्रोडक्शन, जानिए क्या है कारण

- Advertisement -

दुनियाभर में कोरोना (Corona) महामारी ने तबाही मचा दी है। अब कोरोना महामारी की चौथी लहर ने भी दस्तक दे दी है। वहीं, दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने एस्ट्राजेनेका की कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड (Covidshield) का उत्पादन रोक दिया है। ये जानकारी कंपनी के सीईओ अदाम पूनावाला ने दी है।

यह भी पढ़ें- महिला पुलिसकर्मी ने बुजुर्ग के साथ किया ऐसा काम, तस्वीर हुई वायरल

एसआईआई के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया कि इस समय भी कंपनी के पास कोविड-19 वैक्सीन की 20 करोड़ डोज स्टॉक में पड़ी हुई हैं। उन्होंने कहा कि हमने जरूरतमंदों को मुफ्त में भी वैक्सीन दी। उनका कहना है कि सीरम दुनिया भर में अब कोविड-19 वैक्सीन की अधिकता हो गई है, जिसके चलते प्रोडक्शन पर रोक लगाई गई है। दरअसल, एसआईआई अमेरिकी फार्मा कंपनी नोवावैक्स की कोवोवैक्स का भी प्रोडक्शन करती है, जबकि प्रोडक्शन सिर्फ कोविशील्ड
का ही बंद हुआ है।

जानकारी के अनुसार, सीरम इंस्टीट्यूट ने अभी तक कोविशील्ड की 100 करोड़ से ज्यादा डोज का प्रोडक्शन किया है। इसके अलावा कई देशों में कोविड-19 वैक्सीन (Covid19 Vaccine) सप्लाई में भी बड़ा योगदान दिया है। दुनिया की फार्मेसी के रूप में जाना जाने वाले भारत ने पिछले साल वैक्सीन के निर्यात को सीमित कर दिया था। जबकि, नवंबर में दोबारा से वैक्सीन का निर्यात शुरू किया गया।

गौरतलब है कि देश में कोरोना संक्रमण फिर बढ़ रहा है। भारत का ड्रग नियामक कोविशील्ड को प्रोडक्शन के 9 महीने बाद तक ही इस्तेमाल की सलाह देता है। ऐसे में ज्यादा डोज स्टोर करके रखना भी नुकसानदायक हो सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है