Covid-19 Update

2,01,054
मामले (हिमाचल)
1,95,598
मरीज ठीक हुए
3,446
मौत
30,082,778
मामले (भारत)
180,423,381
मामले (दुनिया)
×

6 Banks को सैकड़ों करोड़ का चूना लगाकार विदेश भाग गया रामदेव इंटरनेशन लिमिटेड का मालिक

6 Banks को सैकड़ों करोड़ का चूना लगाकार विदेश भाग गया रामदेव इंटरनेशन लिमिटेड का मालिक

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारतीय बैंकों से करोड़ों रुपए लेकर विदेश भाग जाने वालों की फेरहिस्त में रामदेव इंटरनेशन लिमिटेड (Ramdev International Limited) के मालिक का भी नाम जुड़ गया है। मिली जानकारी के अनुसार रामदेव इंटरनेशनल के तीन प्रवर्तक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की अगुवाई वाले छह बैंकों के गठजोड़ के साथ 411 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के बाद देश से फरार हो चुके हैं। इन आरोपियों के खिलाफ चार सालों तक कोई शिकायत नहीं हुई। अब पता चला है कि मालिक विदेश भाग गया है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की शिकायत पर सीबीआई (CBI) ने कंपनी के मालिक और उसके चार निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें: Corona मरीजों की नई डिस्चार्ज नीति: 14 नहीं अब 10 दिन में मिल जाएगी Hospital से छुट्टी, जानें

वहीं एसबीआई द्वारा निरीक्षण के बाद राम देव इंटरनेशनल लिमिटेड के मालिक 2016 से लापता बताए जा रहे हैं। जांच में लगे अधिकारियों ने एक निजी चैनल को बताया कि आरोपी ने देश छोड़ने से पहले अपनी अधिकतर संपत्तियां बेच दी थी। केंद्रीय एजेंसी ने 28 अप्रैल को मालिकों के नाम के साथ मामला दर्ज किया। इसमें सुरेश कुमार, नरेश कुमार और संगीता के नाम हैं और उनके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर (LOCs) जारी किए गए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक रामदेव इंटरनेशन ने कुल 414 करोड़ रुपये बैंकों से उधार लिए हैं। जिसमें 173.11 करोड़ एसबीआई से, केनेरा बैंक से 76.09 करोड़, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया से 64.31 करोड़ रुपया, 51.31 करोड़ सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया से, 36.91 करोड़ कारपोरेशन बैंक से और 12.27 करोड़ रुपया आइडीबीआई बैंक से लेकर फरार हो गया है।


एक विशेष ऑडिट में पता चला है कि उधारकर्ताओं ने खातों में गड़बड़ी कर, बैलेंस शीट को ठग लिया और बैंक धन की लागत पर गैरकानूनी तरीके से हासिल करने के लिए संयंत्र और मशीनरी को अनधिकृत रूप से हटाया है। अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते अभी तक इस मामले में छापेमारी की कार्रवाई नहीं की गई है। जांच एजेंसी इस मामले में आरोपियों को समन की प्रक्रिया शुरू करेगी। अधिकारियो ने कहा कि यदि आरोपी जांच में शामिल नहीं होते हैं, तो उनके खिलाफ उपयुक्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है