×

सोलन में गरजे सुशांत- बोले, कर्मचारियों की मांगें पूरी नहीं कर सकते तो Resign दें CM Jai Ram

पूर्व सांसद राजन सुशांत ने प्रदेश सरकार पर बोला हमला, क्षेत्रीय दल के गठन की भी ताल ठोकी

सोलन में गरजे सुशांत- बोले, कर्मचारियों की मांगें पूरी नहीं कर सकते तो Resign दें CM Jai Ram

- Advertisement -

दयाराम कश्यप/सोलन। प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) अगर कर्मचारियों की मांगों को पूरा नहीं कर सकते तो राजभवन में जाकर अपना त्यागपत्र (Resign) दें। यह बात पूर्व सांसद राजन सुशांत (Rajan Sushant) ने हिमाचल प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए आज सोलन में कही। राजन सुशांत ने बुधवार को हिमाचल में क्षेत्रीय दल के गठन की भी ताल ठोक दी है, जिसकी शुरूआत उन्होंने जिला सोलन (Solan) मुख्यालय से की है। पूर्व सांसद राजन सुशांत ने कर्मचारियों के लिए 2003 के बाद शुरू की गई नई पेंशन स्कीम को बंद करके पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली की मांग की है। उन्होंने कहा कि जब मजदूरों, कर्मचारियों, दुकानदारों, बागवानों, किसानों और विस्थापितों के हितों की बात आती है, तो सरकार आर्थिक हालात का रोना रोती है और विधायकों-सांसदों की सैलरी 2 लाख से भी अधिक है।


यह भी पढ़ें: मंडी नगर निगम के विरोध में मौन जुलूस, भेजे 1500 से ज्यादा Objection Letter

 

 

उन्होंने कहा कि हर साल सैलरी बढ़ाने को लेकर 2 मिनट में विधानसभा में दोनों दल प्रस्ताव पास कर देते हैं, लेकिन आम जनता की बारी में खजाना खाली हो जाता है। उन्होंने जयराम सराकर पर आरोप लगाते हुए कहा कि 35-35 लाख की गाड़ियां खरीदी जा रही हैं और बंगलों पर लाखों खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने एनपीएस (NPS) के तहत खुद भी पेंशन लेने की घोषणा की है। हालांकि, राजन सुशांत 1982 के विधायक हैं उन पर एनपीएस लागू नहीं होता है, लेकिन नैतिकता के आधार पर जब तक 2003 के बाद कर्मचारियों को एनपीएस की जगह पुरानी पेंशन नहीं मिल जाती, तब तक एनपीएस के तहत ही पेंशन लेंगे। उन्होंने सीएम जयराम को आगाह करते हुए कहा कि कोरोना काल में जयराम ठाकुर और उनके मंत्री फिजूलखर्ची बंद करें, अन्यथा जनता को लामबंद करके सरकार के खिलाफ आंदोलन छेड़ा जाएगा।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है