Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
24,965,463
मामले (भारत)
163,750,604
मामले (दुनिया)
×

RBI का कोरोना की दूसरी लहर के बीच बड़ा ऐलान-Health Sector को 50 हजार करोड़

बैंकों को कोविड लोन बुक बनाने का निर्देश साथ ही प्रायोरिटी सेक्टर लिए इंसेंटिव का ऐलान

RBI का कोरोना की दूसरी लहर के बीच बड़ा ऐलान-Health Sector को 50 हजार करोड़

- Advertisement -

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India Governor) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कोरोना की दूसरी लहर से लड़ने के लिए बैंकों द्वारा 31 मार्च 2022 तक अस्पतालों,ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ताओं, वैकसीन आयातकों,कोविड दवाओं के लिए 50 हजार करोड़ (50 Thousand Crores) कर्ज का ऐलान किया है। उन्होंने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि रिजर्व बैंक (RBI) कोविड की परिस्थितियों पर नजर बनाए है। उन्होंने कहा कि दुनिया के मुकाबले भारत में रिकवरी तेजी से हो रही है,लेकिन दूसरी लहर (Corona Second Wave)ज्यादा खतरनाक है।


यह भी पढ़ें:तीन दिन की राहत के बाद Corona के मामलों में बढ़ोतरी, सुब्रमण्यम स्वामी बोले-गडकरी को दो जिम्मा 

शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने उम्मीद जताई कि अच्छे मानसून की वजह से ग्रामीण क्षेत्रों में मांग बढ़ेगी। उन्होंने कोरोना की दूसरी लहर से लड़ने के लिए बैंकों द्वारा 31 मार्च 2022 तक अस्पताल ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ता, वैक्सीन आयातकों, कोविड दवाओं के लिए 50,000 करोड़ रूपए के प्राथमिकता पर आधारित कर्ज की घोषणा की। केवाईसी (KYC)  को लेकर भी रिजर्व बैंक ने बड़ी छूट देते हुए विडियो केवाईसी और नॉन फेस टू फेस डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन को बढ़ावा देने को कहा है। बैंकों को कोविड लोन बुक बनाने का निर्देश साथ ही प्रायोरिटी सेक्टर लिए इंसेंटिव का ऐलान भी किया गया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है