Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
24,965,463
मामले (भारत)
163,750,604
मामले (दुनिया)
×

तीन दिन की राहत के बाद Corona के मामलों में बढ़ोतरी, सुब्रमण्यम स्वामी बोले-गडकरी को दो जिम्मा

वायुसेना के सी-17 ग्लोबमास्टर मालवाहक जहाज बने लाइफ लाइन

तीन दिन की राहत के बाद Corona के मामलों में बढ़ोतरी, सुब्रमण्यम स्वामी बोले-गडकरी को दो जिम्मा

- Advertisement -

तीन दिन तक राहत के बाद एक बार फिर से देश में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी (Increase in Corona Cases) दर्ज की गई है। देश में पिछले 24 घंटों में 3 लाख 82 हजार 847 नए कोरोना के मामलों की पुष्टि हुई है। इसी तरह इस दौरान 3783 लोगों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हुई है। एक दिन में मौत का ये सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसमें राहत की बात यही है कि इस अवधि में 3. 37 लाख लोगों ने कोरोना को मात दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य संयुक्त सचिव लव अग्रवाल (Luv Agarwal) का कहना है कि देश में रिकवरी रेट बढ़ रहा है, जोकि अच्छे संकेत हैं।


यह भी पढ़ें: पत्नी के जेवर बेचकर ऑटो को बनाया एंबुलेंस, लोगों को फ्री में पहुंचा रहा अस्पताल

इस सबके बीच बीजेपी नेता व राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने कहा है कि कोरोना से निपटने का जिम्मा केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) को दे देना चाहिए। स्वामी ने टृवीट कर लिखा है कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को कोरोना से पूरी लड़ाई लड़ने का जिम्मा नितिन गडकरी को सौंप देना चाहिए। पीएमओ (PMO)पर सिर्फ निर्भर रहने से काम नहीं चलेगा। दो दिन पहले ही स्वामी ने अपनी ही सरकार को घेरते हुए कहा था कि अब सरकार को यह कहना बंद कर देना चाहिए कि कितना ऑक्सीजन हमारे पास उपलब्ध है। स्वामी ने कहा कि हमें कहना चाहिए कि कितनी सप्लाई हमने की है और किस अस्पताल में भेजी गई।


यह भी पढ़ें:कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंची ये लड़की चिल्लाने लगी मम्मी… मम्मी- देखें वीडियो

उधर, कोरोना संकट के बीच जब भारत सांसों के लिए संघर्ष कर रहा है ऐसे में एक बार फिर से वही मालवाहक विमान लाइफ लाइन बने हुए हैं, जो चीन से टकराव के वक्त लद्दाख में भारतीय सेना के अहम हथियार बने थे। लद्दाख में चीनी टकराव के वक्त सुर्खियां बटोरने वाले भारतीय वायुसेना के मालवाहक विमान सी-17 ग्लोबमास्टर (Indian Air Force cargo plane C-17 Globemaster) एक बार फिर से चर्चा के केंद्र में हैं। ये मालवाहक विदेशों से ऑक्सीजन दवाएं और कोरोना राहत सामग्रियों को लाने के लिए जुटे हुए हैं। सी-17 के आठ भारी-भरकम विमान नियमित रूप से अंतरराष्ट्रीय और घरेलू स्थानों पर उड़ान भर रहे हैं, जिससे ऑक्सीजन की भयावह (Oxygen Shortage) कमी को दूर करने में मदद मिल रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है