Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

रूस ने UNSC की स्थाई सदस्यता में भारत का किया समर्थन, China संग सीमा विवाद पर कही ये बात

रूस ने UNSC की स्थाई सदस्यता में भारत का किया समर्थन, China संग सीमा विवाद पर कही ये बात

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा पर जारी तनाव के बीच भारत का पुराने दोस्त और रणनीतिक साझेदार समझे जाने वाले रूस ने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में स्थायी सदस्यता के लिए भारत का समर्थन किया है। रूस ने सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता के लिए भारत की उम्मीदवारी का समर्थन किया है। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव (Russian Foreign Minister Sergei Lavrov) ने कहा कि आज हमने संयुक्त राष्ट्र के संभावित सुधारों के बारे में बातचीत की। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UN Security Council) का स्थायी सदस्य (Permanent Member) बनने के लिए भारत एक मजबूत उम्मीदवार है और हम भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करते हैं। हमारा मानना है कि भारत सुरक्षा परिषद का पूर्ण सदस्य बन सकता है।

यह भी पढ़ें: वीरभद्र का आज है 87वां Birthday यूं तो आने की है मनाही पर कहां मान रहे शुभचिंतक

भारत-चीन के बीच किसी तीसरे पक्ष की जरूरत नहीं

वहीं भारत-चीन सीमा विवाद पर रूस ने कहा कि उन्हें ऐसा नहीं लगता है कि भारत और चीन के बीच विवाद सुलझाने के लिए किसी तीसरे पक्ष की जरूरत है। भारत-रूस-चीन के विदेश मंत्रियों की मंगलवार को वर्चुअल बैठक के दौरान रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत-चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चल रहे तनानती का भी इस दौरान जिक्र किया और कहा कि उन्हें नहीं लगता है कि इसमें किसी तीसरे पक्ष के दखल की जरूरत है। लावरोव ने कहा, हम यह उम्मीद करते हैं कि स्थिति लगातार शांतिपूर्ण रहेगी और विवाद का शांतिपूर्ण समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘मैं नहीं मानता हूं कि उन्हें मदद की जरूरत है खासकर जहां तक देश के मुद्दों की बात है। वे अपने दम पर इसका समाधान कर सकते हैं। रूसी विदेश मंत्री ने आगे कहा कि नई दिल्ली और बीजिंग ने शांतिपूर्ण समाधान को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है। उन्होंने रक्षा अधिकारियों, विदेश मंत्रियों के स्तर पर बात की है और दोनों पक्षों ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है जिससे यह संकेत मिलता हो कि कोई कूटनीतिक समाधान न चाह रहा हो।’


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है