×

अनोखा Night Club : यहां हिंदी-इंग्लिश नहीं बजते हैं संस्कृत गाने

भारतीय राजनयिक विश्वनाथन ने साझा किए थे अनुभव

अनोखा Night Club : यहां हिंदी-इंग्लिश नहीं बजते हैं संस्कृत गाने

- Advertisement -

नाइट क्लब के बारे में तो आप सब ने सुना होगा और काफी लोग यहां पर जाते भी होंगे। क्लब में हिंदी, पंजाबी या फिर इंग्लिश गाने बजते हैं, जिस पर लोग डांस करते नजर आते हैं। क्या आपने कभी ऐसा नाइट-क्लब (Night club) देखा है, जहां लोग संस्कृत गानों पर डांस करते हैं। यह बात सुनकर आपको बहुत हैरानी हो रही होगी, लेकिन दुनिया में एक ऐसा देश भी है, जहां लोग हिंदी या अंग्रेजी नहीं बल्कि संस्कृत गानों पर डांस करते हैं। आज हम आपको इस अनोखे नाइट क्लब के बारे में बता रहे हैं।


यह भी पढ़ें: #SBI : जेब में नहीं रखा है मोबाइल तो नहीं निकाल पाएंगे 10,000 से ज्यादा, पढ़ें पूरी खबर

इस देश का नाम है अर्जेंटीना, जहां की राजधानी ब्यूनस-आयर्स में ग्रोव नाम का एक नाइट क्लब है। यहां गणेश शरणम, गोविंदा-गोविंदा, जय-जय राधा रमन हरी बोल और जय कृष्णा हरे जैसे गाने बजते हैं। अर्जेंटीना में स्थित यह नााइट क्लब कई तरह से अनोखा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि ब्यूनस-आयर्स का यह नाइट क्लब कोई छोटा-मोटा नाइट क्लब नहीं है, बल्कि यहां एक साथ करीब 800 लोग गानों पर डांस करते दिखाई देते हैं।

दरअसल, एक भारतीय राजनयिक विश्वनाथन साल 2012 में अर्जेंटीना गए थे और उन्होंने ही अपने अनुभव साझा किए थे। उन्होंने बताया कि उस नाइट क्लब में न तो शराब मिलती है और न ही लोग धूम्रपान करते नजर आते हैं। यहां तक की इस नाइट क्लब में ड्रग्स की भी मनाही है और मांस-मछली भी नहीं मिलता। यहां सिर्फ सॉफ्ट ड्रिंक्स, फलों का रस और शाकाहारी खाना ही मिलता है। इस नाइट क्लब में गाने वाले रोड्रिगो कहते हैं कि यहां मंत्रों, योग, ध्यान, संगीत और नृत्य के जरिए देह का आत्मा के साथ संबंध स्थापित कराया जाता है। आत्मिक शांति के लिए ये जगह काफी अच्छी है अगर आपको मौका लगे तो इस जगह जरूर विजिट करें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है