Covid-19 Update

2,67,577
मामले (हिमाचल)
2, 53, 840
मरीज ठीक हुए
3961*
मौत
40,622,709
मामले (भारत)
366,912,057
मामले (दुनिया)

बैंक ने गलती से अकाउंट में भेज दिए 1300 करोड़ रुपए, वापस करने से मना कर रहे लोग

बैंक के करीब 1.40 करोड़ ग्राहक और 616 शाखाएं हैं

बैंक ने गलती से अकाउंट में भेज दिए 1300 करोड़ रुपए, वापस करने से मना कर रहे लोग

- Advertisement -

दुनिया में किसी भी व्यक्ति के बैंक अकाउंट (Bank Account) में अचानक बैंक लाखों रुपए भेज जाएं तो वह खुशी से झूम उठेगा। यूके में भी कुछ ऐसा ही हुआ है। यूके के सातेनदर बैंक (Santander Bank) ने गलती से लोगों के अकाउंट में 130 मिलियन पाउंड यानी 1300 करोड रुपए भेज दिए हैं। हालांकि, अब बैंक लोगों से पैसै वापस मांग रहा है, लेकिन लोग पैसे वापस करने से मना कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें-इस देश में सबसे पहले मनाया जाता है नया साल, आखिरी में यहां होता है आगाज

बता दें कि ब्रिटेन में इस बैंक के करीब 1.40 करोड़ ग्राहक और 616 शाखाएं हैं। Santander UK ग्लोबल बैंक Banco Santander का सहयोगी बैंक है। जानकारी के अनुसार, 25 दिसंबर, 2021 को Santander बैंक ने गलती से बैंक के ही 2 हजार अकाउंट से 75 हजार लोगों को रकम ट्रांसफर कर दी। Santander बैंक की ओर से ये पैसा Barclays, HSBC, NatWest, Co-operative Bank और Virgin Money जैसी प्रतिद्वंदी बैंक के कस्टमर अकाउंट में चले गए हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, Santander बैंक को इस बात का डर है कि ये पैसा बैंक को वापस नहीं मिलेगा। बैंक की ओर से एक बयान में कहा गया है कि ये सब तकनीकी गलती के कारण हुआ है। अब बैंक के पास लोगों से पैसों को वापस लेने के दो रास्ते हैं। बैंक जबरदस्ती ग्राहकों को पैसा वापस भेजने के लिए कहेगा या फिर बैंक उन ग्राहकों के पास जाकर रकम वापस लेगा।

पैसे नहीं लौटाने पर होगी 10 साल कैद

ब्रिटेन (Britain) के कानूनों के अनुसार बैंक ग्राहक के खाते में गलती से आया पैसा बैंक वापस ले सकते हैं, लेकिन अगर ग्राहक पैसा नहीं लौटाते हैं तो उन्हें अधिकतम 10 साल तक की जेल हो सकती है।


एक बार पहले हुई थी ऐसी गलती

इससे पहले अमेरिका की सिटीबैंक (Citybank) ने भी गलती से कॉस्मेटिक कंपनी रेवलॉन (Cosmetic Company Revlon) के लेंडर्स को गलती से 90 करोड़ डॉलर का भुगतान कर दिया था। वहीं, बैंक इसमें से 50 करोड़ डॉलर की भी वसूली नहीं कर पाया। पिछले साल अगस्त में सिटीबैंक ने मामले में अदालत से मदद मांगी थी, लेकिन साल 2021, फरवरी में अमेरिका की एक अदालत ने बैंक को इसकी रिकवरी की अनुमति नहीं दी थी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है