Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

निजी स्कूलों में मार्च से मई तक की फीस हो माफ, छात्र अभिभावक मंच ने CM को लिखा पत्र

निजी स्कूलों में मार्च से मई तक की फीस हो माफ, छात्र अभिभावक मंच ने CM को लिखा पत्र

- Advertisement -

शिमला। छात्र अभिभावक मंच ने कोरोना (Corona) संकट के इस समय में प्रदेश सरकार से निजी स्कूलों (Private School) में फीस बढ़ोतरी पर रोक लगाने और मार्च से मई 2020 की फीस माफ करवाने की गुहार लगाई है। अभिभावक मंच ने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) को पत्र लिखकर इस मामले में तुरंत हस्तक्षेप कर आर्थिक मंदी से जुझ रहे अभिभावकों को राहत देने की अपील की है। छात्र अभिभावक मंच के संयोजक विजेंद्र मेहरा ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण हुए लॉकडाउन व कर्फ्यू (Curfew) के कारण स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों के कारोबार बंद हो गए हैं और वह भारी आर्थिक परेशानी में हैं।

यह भी पढ़ें: Kullu में फंसे लाहुलवासियों का इंतजार खत्म, 140 की हुई घर वापसी

प्रदेश के 2712 निजी स्कूलों में इस समय पांच लाख 13 हज़ार 73 छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। यह प्रदेश के कुल विद्यार्थियों का छत्तीस प्रतिशत है। इस तरह इस विकट परिस्थिति में निजी स्कूलों में की गई आठ से बीस प्रतिशत की फीस बढ़ोतरी व आय के साधनों के अभाव में मार्च से मई 2020 का फीस भुगतान करना असहनीय हो गया है। क्योंकि अधिकतर अभिभावक मजदूर, आउटसोर्स कर्मचारी, छोटे दुकानदार, टैक्सी संचालक, कारोबारी, होटल संचालक आदि के रूप में कार्य करते हैं। जिनके आय के साधन लॉकडाउन व कर्फ्यू से बिल्कुल तबाह हो गए हैं। इस से निजी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र व उनके अभिभावक बुरी तरह प्रभावित हो रहे हैं।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है