Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

26/11 मुंबई हमले का मुख्‍य साजिशकर्ता तहव्‍वुर हुसैन राणा US में अरेस्‍ट, India में चलेगा हत्या का मामला

26/11 मुंबई हमले का मुख्‍य साजिशकर्ता तहव्‍वुर हुसैन राणा US में अरेस्‍ट, India में चलेगा हत्या का मामला

- Advertisement -

लॉस एंजिलिस/मुंबई। अमेरिका के शिकागो रह रहे पाकिस्तानी मूल के कनाडाई कारोबारी व 26/11 मुंबई आतंकी हमले (26/11 Mumbai terror attacks) के मुख्‍य साजिशकर्ता तहव्वुर राणा को लॉस एंजिलिस में गिरफ्तार (Arrest) कर लिया गया है। वकीलों के अनुसार, हत्या की साज़िश के मामले में राणा का प्रत्यर्पण भारत (India) होगा। आतंकी समूहों को मदद करने के लिए तहव्वुर 10 साल से अधिक समय जेल में बिता चुका है। जानकारी के मुताबिक, दो दिन पहले ही तहव्‍वुर राणा को जेल से रिहा किया गया था, लेकिन अमेरिकी प्रशासन ने उसे दोबारा गिरफ्त में ले लिया है।

राणा को भारत भेजे जाने की ‘प्रबल संभावना’

अब भारत सरकार ट्रंप प्रशासन के पूरे सहयोग के साथ पाकिस्तानी कैनेडियाई नागरिक के प्रत्यर्पण के लिए आवश्यक कागजी कार्रवाई पूरी कर रही है। मुंबई आतंकी हमले में वांछित पाकिस्‍तानी-कनाडाई मूल के तहव्‍वुर राणा के खिलाफ भारत प्रत्‍यर्पित (Extradition) करने का मामला लंबित है। हालांकि इस बार तहव्‍वुर राणा को भारत भेजे जाने की ‘प्रबल संभावना’ है। राणा 2008 के मुंबई हमलों में शामिल होने को लेकर हत्या के आरोपों का सामना कर रहा है।


यह भी पढ़ें: पुरी के ‘आफताब’ की SC से अपील: टोटल shut down करके जगन्नाथ रथयात्रा निकालने की अनुमति दें

लश्कर ए तैयबा की मदद करने के जुर्म में ठहराया गया था दोषी

बता दें कि, मुंबई हमले में 160 से अधिक लोग मारे गए थे। मुंबई आतंकी हमले के दौरान मुंबई पुलिस ने 9 आतंकवादियों को घटनास्‍थल पर ही ढेर कर दिया था। एक आतंकी अजमल कसाब को जिंदा पकड़ा गया था। ये पाकिस्‍तान से था। अजमल कसाब को बाद में फांसी दी गई थी। वहीं राणा को 26/11 की साजिश रचने के मामले में 2009 में गिरफ्तार किया गया था। तहव्वुर हुसैन राणा को जूरी ने 10 जून 2011 को दोषी ठहराया था। उसे डेनमार्क के अखबार पर हमले की साजिश रचने तथा लश्कर ए तैयबा की मदद करने के जुर्म में दोषी ठहराया गया था। राणा पिछले करीब 10 साल से अमेरिका की जेल में था। वहीं उसके रिहा होने के बाद उसे एक बार फिर गिरफ्तार किया गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है