Covid-19 Update

2,04,685
मामले (हिमाचल)
2,00,233
मरीज ठीक हुए
3,491
मौत
31,219,374
मामले (भारत)
192,489,942
मामले (दुनिया)
×

शाहपुर के बोह में मलबे में दबा आखिरी शव भी किया बरामद, सर्च अभियान बंद

The last dead body buried in the rubble in Boh vally of Shahpur was also recovered

शाहपुर के बोह में मलबे में दबा आखिरी शव भी किया बरामद, सर्च अभियान बंद

- Advertisement -

कांगड़ा /बिलासपुर। हिमाचल के कांगड़ा जिला के शाहपुर (Shahpur) की बोह वैली की रुलेहड़ में मलबे में दबा एक और शव रविवार को बरामद कर लिया है। अब तक मलबे से 9 शव (Dead Body) निकाले जा चुके थे। इस शव के मिलने से मृतकों की संख्या 10 पहुंच गई है। मलबे में दबा यह आखिरी शव था। इसके बाद एनडीआरएफ (NDRF) ने रेस्क्यू आपरेशन बंद कर दिया है। मिली जानकारी के अनुसार हिमाचल के कांगड़ा जिला में सोमवार को आई प्राकृतिक आपदा से बोह में भारी भूस्खलन हो गया था। मलबे में कई लोग दब गए थे। एनडीआरएफ टीम ने अब तक 9 शवों को मलबे से निकाल लिया था। लेकिन यह आखिरी शव नहीं मिल रहा था। जिसे आज रविवार को घटना के सातवें दिन एनडीआरएफ की टीम ने बरामद किया है। पुलिस ने नीरज (18) पुत्र भीम सिंह का शव कब्जे में लेकर पीएचसी दरिणी भेज दिया है। सोमवार को पोस्टमार्टम करवाकर शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा। एनडीआरएफ की टीम लगातार लापता युवक की तलाश में जुटी थी। रविवार को पोकलेन मशीन की मदद से वहां से मलबे को हटाया जा रहा था कि इस दौरान युवक का शव तलाश लिया गया। मलबे से 10 शव निकाले गए, जबकि पांच सुरक्षित रेस्क्यू किए गए। इसके साथ ही रेस्क्यू ऑपरेशन भी खत्म हो गया है।

यह भी पढ़ें: मलबे में दबे पांच लोग जिंदा बाहर निकाले, अभी तक शव मिले, 3 के दबे होने की आशंका

बिलासपुर के कोठीपुरा में नेपाल मूल के युवक ने की आत्महत्या

बिलासपुर। काम की तलाश में हिमाचल पहुंचे नेपाल (Nepal) मूल के एक युवक ने रविवार शाम को बिलासपुर जिला के कोठीपुरा में आत्महत्या (Suicide) कर ली है। वह एक होटल के कमरे में रूका हुआ था, वहीं उसने पंखे से फंदा लगाकर अपनी जान गंवा दी है। पुलिस को इसकी जानकारी मिलने के बाद उन्होंने मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बाला राम बंथा मगर सुपुत्र गजबीर बंथा मगर निवासी गांव भंभड़ जिला रोलपा नेपाल की (30) वर्ष थी। वह यहां नोवा गांव में मौजूद एक होटल (Hotel) में दिन के वक्त आराम करने रूका था, लेकिन जब बाद में देखा तो वह पंखे से झूलता नजर आया। क्षेत्र के निवासी जगदीश सिंह ने बताया कि वह यहां सुबह घूमता नजर आया था। उसने यहां स्थानीय चाय की दूकान में बताया था कि उसे सोलन (Solan) में जाना है और वहां पर वह लोग टमाटर की खेती का काम करते हैं। उसने यह भी बताया कि उसके साथ कुछ साथी थे, लेकिन वह रास्ता भूल गया है और अपने दोस्तों से भटक गया है। ऐसे में लोगों ने उसे कोठीपुरा की तरफ का रास्ता बताया और उसे सोलन पहुंचने के लिए बस का मार्गदर्शन किया, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। वह वहीं नजदीक के होटल में रूक गया और शाम के समय वह पंखे से झूलता नजर आया। डीएसपी बिलासपुर ने मामले की पुष्टि की है।


 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है