×

ससुराल में पत्नी को लगी किसी भी तरह की चोट के लिए पति ही जिम्मेदार

सुप्रीम कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई के दौरान कही बात

ससुराल में पत्नी को लगी किसी भी तरह की चोट के लिए पति ही जिम्मेदार

- Advertisement -

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court ) का कहना है कि ससुराल में पत्नी को लगी किसी भी तरह की चोट के लिए पति ही जिम्मेदार होगा। चीफ जस्टिस एसए बोबडे (Chief Justice SA Bobade) की अगुवाई वाली बेंच ने कहा कि ससुराल (In-Laws house) में महिला पर भले ही किसी अन्य रिश्तेदार ने हमला किया हो, लेकिन इसके लिए पति को ही जिम्मेदार माना जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने ये बात पत्नी को पीटने वाले एक शख्स की अग्रिम जमानत की याचिका खारिज करते हुए कही।


यह भी पढ़ें : Kolkata : बहुमंजिला इमारत में भड़की आग, 9 की मौत, राष्ट्रपति-पीएम मोदी ने जताया शोक

पत्नी से मारपीट के आरोपी शख्स की यह तीसरी शादी है, जबकि महिला की दूसरी शादी है। शादी (Wedding) के एक साल बाद साल 2018 में महिला ने बच्चे को जन्म दिया था। बीते साल जून में महिला ने लुधियाना पुलिस में अपने पति और ससुरालवालों के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी। महिला का आरोप था कि दहेज की मांग पूरी ना करने पर उसे उसके पति, ससुर और सास ने बेरहमी से पीटा था। आरोपी के वकील कुशाग्र महाजन ने अपने मुवक्किल को अग्रिम जमानत दिए जाने का अनुरोध किया। इस सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, ”आप किस तरह के आदमी हैं? महिला ने आरोप लगाया है कि उसका पति गला दबाकर उसकी हत्या करने वाला था। उसने आरोप लगाया कि आपने गर्भपात के लिए मजबूर किया। आप किस तरह के आदमी हैं कि अपनी पत्नी को पीटने के लिए क्रिकेट बैट का इस्तेमाल करते हैं?

यह भी पढ़ें :- #toolkit प्रकरण : विदेशों में थी भारतीय दूतावास टारगेट करने की कोशिश : Delhi Police

कोर्ट के इस सवाल के जवाब में आरोपी के वकील कुशाग्र महाजन ने कहा कि महिला ने खुद आरोप लगाया है कि उसके ससुर उसे बैट से पीटा करते थे। इस पर सीजेआई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपके पिता या आप उसे बैट से पीटा करते थे। जब ससुराल में एक महिला को किसी भी तरह की चोट लगती है तो प्राथमिक जिम्मेदारी पति की होती है। इसके बाद बेंच ने शख्स की याचिका खारिज कर दी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है