Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,694,940
मामले (भारत)
232,779,878
मामले (दुनिया)

दुनिया का सबसे ताकतवर केकड़ा, इंसान की हड्डियों को मिनटों में कर सकता है चकनाचूर

दुनिया का सबसे ताकतवर केकड़ा, इंसान की हड्डियों को मिनटों में कर सकता है चकनाचूर

- Advertisement -

नई दिल्ली। इस दुनिया में कई तरह के जीव-जंतु हैं जिनमें कुछ तो हमारे आसपास ही रहते हैं औऱ कुछ हमसे बहुत दूर। धरती पर कुछ तो इतने अजीबो-गरीब जीव भी हैं, जिनकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते। हम आज ऐसे ही एक जीव के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। इस जीव का नाम है ‘दैत्य केकड़ा’। इसे दुनिया का सबसे ‘ताकतवर’ केकड़ा (Powerful crab) भी कहा जाता है। वैसे तो सामान्य केकड़े का नाम सुनते ही आपके रोंगटे खड़े हो जाते हैं। ऐसे में इस भूरे रंग के नुकीले कांटे वाले केकड़े को देख पक्का किसी के भी होश उड़ सकते हैं। ये दैत्य केकड़ा इतना ताकतवर होता है कि ये इंसानों की हड्डियों (Human bones) तक को आसानी से तोड़ सकता है। इतना ही नहीं ये पेड़ से नारियल को गिराने और उसे मिनटों में तोड़ने में भी एक्सपर्ट होता है। इसी खूबी के चलते इसे ‘कोकोनट क्रैब’ भी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें: Flipkart से खरीदेंगे स्मार्टफोन या Smart TV तो मिलेगा ये खास ऑफर

इसमें होती है 3300 न्यूटन बल की ताकत

जानकारों के मुताबिक इस केकड़े में नुकीला कांटा काफी मजबूत होता है। यह नारियल (Coconut) के बाहरी कवच को भी आसानी से तोड़ सकता है। इनके अंदर 3300 न्यूटन बल की ताकत होती है। यह केकड़ा दक्षिण पश्चिमी प्रशांत महासागर और हिंद महासागर में पाया जाता है, एक वयस्क ‘दैत्य केकड़े’ की लंबाई एक मीटर होती है, जबकि वजन 4.5 किलो के आसपास होता है। इतना ही नहीं समय के साथ इन केकड़ों का रंग भी बदलता जाता है। युवावस्था में ये भूरे रंग के होते हैं और इनके पैरों पर काली धारियां होती हैं जबकि व्यस्क होने पर ये हल्के बैंगनी या गहरे बैंगनी रंग के हो जाते हैं। हालांकि कुछ केकड़े भूरे रंग के भी रह जाते हैं।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में डबल धमाका, Airtel के 48 रुपये वाले पैक में मिलेगा 3 जीबी डाटा

सड़ी-गली चीजों को खाकर करते हैं गुजारा

यह केकड़े सड़ी-गली चीजों को खाकर अपना गुजारा करते हैं। ये दूसरे केकड़ों के कवच तक खा लेते हैं। इनके अंदर सूंघने की क्षमता (Smelling ability) काफी तेज होती है। इसी वजह से ये अक्सर रात के अंधेरे में अपने खाने की तलाश में बाहर निकलते हैं। इन्हें चोर केकड़ा भी कहा जाता है, क्योंकि ये अक्सर गंदे बर्तन या अन्य सामानों को चुपके से उठाकर ले जाते हैं। हालांकि ये सिर्फ गंदे बर्तनों को ही उठाकर ले जाते हैं, जिनके अंदर से दुर्गंध आती है। अमेरिका की चर्चित महिला पायलट अमेलिया ईयरहार्ट के रहस्यमय तरीके गायब होने में भी ‘कोकोनट क्रैब’ का ही हाथ बताया जाता है। कहते हैं कि ये केकड़े अमेलिया के शव को टुकड़ों-टुकड़ों में उठाकर अपनी मांद में ले गए होंगे और फिर उसे खा गए होंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है