Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

निजी अस्पतालों में Covid-19 का उपचार करवाना आम आदमी की पहुंच से हुआ बाहर

निजी अस्पतालों में Covid-19 का उपचार करवाना आम आदमी की पहुंच से हुआ बाहर

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोविड-19 (Covid-19) के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए एक ओर जहां सरकार बेड की संख्या बढ़ाने के प्रयास कर रही है, वहीं कुछ निजी अस्पतालों (Private Hospitals) में भी कोविड मरीजों के इलाज की सुविधा शुरू की गई है, परंतु इन अस्पतालों में इलाज कराना आम आदमी की पहुंच से बाहर है। चूंकि,यहां का महंगा खर्च आम आदमी के बस की बात नहीं है। सरकार ने अभी तक निजी अस्पतालों में कोविड उपचार के लिए शुल्क तय नहीं किया है। जिसके चलते वह मनमाने दाम वसूल रहे हैं।

120 से ज्यादा अस्पतालों में इलाज कि सुविधा

राजधानी दिल्ली (Delhi)में इस समय 120 से ज्यादा अस्पतालों में कोरोना के मरीजों का इलाज कि सुविधा है। इनमें केंद्र और दिल्ली सरकार दोनों के अस्पताल शामिल हैं। सरकार ने कुछ अस्पतालों को कोविड विशेष भी घोषित किया है। इनमें गंगाराम कोलमेट, गंगाराम सिटी, दीपचंद बंधु अस्पताल और सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल शामिल हैं, जहां कोरोना के उपचार के लिए निर्धारित शुल्क ही लिया जाता है। दूसरी तरफ पटपड़गंज स्थित मैक्स अस्पताल में कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए रेट लिखे हुए हैं, जिसमें जनरल वार्ड का पैकेज 25 हजार से ऊपर है, जबकि रुटीन वार्ड और आइसोलेशन (प्राइवेट रूम) का चार्ज 30 हजार से ऊपर है। बिना वेंटिलेटर के आईसीयू (ICU) 53 हजार से ज्यादा और वेंटिलेटर के साथ 72 हजार रूपए से ज्यादा देने पड़ेंगे। यह सब एक दिन का चार्ज के रेट हैं। हालांकि,मैक्स अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि अस्पताल सिर्फ आइसोलेशन बेड की सुविधा देने के लिए इतना चार्ज नहीं ले रहा है। इसमें नियमित परीक्षण, नियमित दवाइयां, डॉक्टर और नर्स की फीसए मरीज के खाने का खर्च, ऑक्सीजन, एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड और ईसीजी आदि शामिल हैं।


फोर्टिस में एक दिन का खर्च 15 से 40 हजार

वसंतकुंज के फोर्टिस अस्पताल की भी एक रेट लिस्ट वायरल हो रही है, जिसमें लिखा है कि कोरोना के मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड (Isolation ward) का खर्च 15 हजार रूपए प्रतिदिन और आईसीयू बेड का चार्ज 40 हजार रूपए प्रतिदिन का है। हालांकि, अस्पताल के किसी भी अधिकारी ने इस संबंध में कोई बयान नहीं दिया। ऐसी स्थिति में उन लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा जिनके पास रहने- खाने तक की उचित व्यवस्था तक नहीं है। वहीं, एसोसिएशन ऑफ हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स ने निजी अस्पतालों में कोविड के उपचार की राशि को तय किया है। कोविड उपचार को चार चरण में बांटते हुए फीस को तय किया गया है। अगर कोई मरीज सामान्य वार्ड में भर्ती होता है तो 15 हजार रूपए भुगतना करना होगा, जबकि आइसोलेशन आईसीयू में 25 हजार और वेंटिलेटर की स्थिति है तो 35 हजार रूपए फीस तय की है। इनमें प्लाज्मा थेरेपी का खर्च शामिल नहीं है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है