Covid-19 Update

58,598
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,095,852
मामले (भारत)
114,171,879
मामले (दुनिया)

Uttarakhand: प्रदेश में फूटा कोरोना बम; 120 नए केस आए; एक ने गंवाई जान

Uttarakhand: प्रदेश में फूटा कोरोना बम; 120 नए केस आए; एक ने गंवाई जान

- Advertisement -

देहरादून। पहाड़ी राज्य उत्तराखंड (Uttarakhand) में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर जारी है। प्रदेश में आज 120 नए कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं, जिनमें सबसे अधिक मामले 40 मामले ऊधमसिंहनगर, 35 देहरादून, 18 हरिद्वार, 13 नैनीताल, छह चंपावत, चार पौड़ी गढ़वाल, दो-दो बागेश्वर और टिहरी गढ़वाल में सामने आए हैं। इसके बाद राज्य में अब तक मिले संक्रमितों की संख्या 3537 हो गई है। वहीं आज हलद्वानी में गौजाजाली क्षेत्र के एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई है। मरीज टीबी समेत कई बीमारियों से ग्रसित था और उसका उपचार चल रहा था। राज्य में अब तक 47 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: Corona Update: हिमाचल में चार ITBP जवानों और SBI महिला कर्मी सहित आज 31 पॉजिटिव

वहीं, 68 मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। 2786 पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 674 मामले एक्टिव हैं। इसके अलावा 30 मरीज राज्य से बाहर चले गए हैं। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लोगों से अपील की है कि वे कोरोना संक्रमण को लेकर बहुत सावधानी बरतें। विशेषज्ञों की राय है कि बरसात के सीजन में आद्रता बढ़ने से कोरोना वायरस की ग्रोथ बढ़ती है। उन्होंने कहा कि जरा सी भी लापरवाही कोरोना को घर में आने का निमंत्रण दे सकती है। सीएम प्रदेश पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह बरसात का सीजन है। इसमें आद्रता बढ़ती है। उन्होंने कहा कि अभी कोविड का कोई इलाज नहीं है। इससे बचाव का एक ही मंत्र है सावधानी। इसका कोई दोस्त है ना रिश्तेदार है। इसके लिए सब बराबर हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है