Covid-19 Update

56,943
मामले (हिमाचल)
55,280
मरीज ठीक हुए
954
मौत
10,566,720
मामले (भारत)
95,173,803
मामले (दुनिया)

कोरोना काल में खुला मां वैष्णो देवी का दरबार, आज से यात्रा शुरू, ये रहेंगे नियम

कोरोना काल में खुला मां वैष्णो देवी का दरबार, आज से यात्रा शुरू, ये रहेंगे नियम

- Advertisement -

कटरा। कोरोना संकट के बीच श्रद्धालुओं के लिए एक अच्छी खबर है। वैष्णो देवी (Vaishno Devi ) की यात्रा आज से शुरू हो गई है। कोरोना महामारी के चलते बीते 18 मार्च को वैष्णो देवी यात्रा स्थगित कर दी गई थी। पांच महीने के इंतजार के बाद आज यानि 16 अगस्त से श्रद्धालु फिर से मां वैष्णो देवी के दर्शन कर सकेंगे। कोरोना के सख्त नियमों के साथ यात्रा शुरू हो रही है। फिलहाल यात्रा के पहले चरण में प्रतिदिन सिर्फ 2,000 श्रद्धालु ही दर्शन कर पाएंगे। जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) राज्य प्रशासन ने गत मंगलवार को राज्य के धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति देने के साथ स्पष्ट और सख्त दिशा निर्देश जारी किए थे। राज्य प्रशासन की हरी झंडी मिलने के बाद श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने 16 अगस्त से वैष्णो देवी यात्रा शुरू करने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें: मिसाल: Ramadan में 500 मुस्लिमों के लिए सेहरी और इफ्तारी का इंतजाम कर रहा वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड

 

श्राइन बोर्ड (Shrine board) के सीईओ रमेश कुमार ने बताया कि प्रथम चरण में केवल 2000 श्रद्धालु प्रतिदिन दर्शन कर सकेंगे। इनमें से 1900 जम्मू कश्मीर के, जबकि 100 अन्य राज्यों के श्रद्धालु होंगे। अन्य राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कोविड-19 टेस्ट अनिवार्य होगा। श्रद्धालु को इन नियमों का पालन करना होगा –

 

 

  • 10 साल से छोटे या फिर 60 साल से ऊपर के लोगों के साथ ही गर्भवती महिलाओं को प्रथम चरण में यात्रा करने की इजाजत नहीं होगी।
  • हर श्रद्धालु को मास्क या फिर फेस शिल्ड पहनना अनिवार्य होगा और शारीरिक दूरी का भी ध्यान रखना होगा।
  • प्रथम चरण में दर्शन के लिए वैष्णो देवी भवन की ओर जाने वाले श्रद्धालुओं को केवल पारंपरिक मार्ग से ही जाना होगा और दर्शन के बाद वापस नए ताराकोट मार्ग से आना होगा।
  • श्री माता वैष्णो देवी यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं का केवल ऑनलाइन (Online) पंजीकरण होगा। इच्छुक श्रद्धालुओं को यात्रा पंजीकरण केंद्र से तत्काल यात्रा पर्ची उपलब्ध नहीं होगी।
  • माता वैष्णो देवी यात्रा करने वाले सभी श्रद्धालुओं के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप का होना अनिवार्य है।
  • श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मां वैष्णो देवी के नए ताराकोट मार्ग के साथ ही सांझी छत मार्ग पर स्थापित निशुल्क लंगर फिर शुरू किए जाएंगे।
  • इसके साथ ही श्राइन बोर्ड द्वारा वैष्णो देवी भवन के साथ ही सांझी छत, भैरव घाटी आदि स्थानों पर अपने भोजनालय भी श्रद्धालुओं के लिए खोले जाएंगे।
  • सरकारी निर्देश के मुताबिक श्रद्धालुओं को मूर्ति से लेकर, पवित्र किताबों की मूर्तियों तक किसी भी चीज को छूने की इजाजत नहीं होगी।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है