Covid-19 Update

2,27,483
मामले (हिमाचल)
2,22,831
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,624,360
मामले (भारत)
265,482,381
मामले (दुनिया)

वरुण और प्रियंका ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, लखीमपुर खीरी हिंसा पर एक हुए भाई-बहन

वरुण गांधी ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की

वरुण और प्रियंका ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, लखीमपुर खीरी हिंसा पर एक हुए भाई-बहन

- Advertisement -

नई दिल्ली। शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने तीन कृषि कानूनों को वापस ले लिय। इस ऐलान के बाद से ही इस पर सियासत जारी है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत किया है, लेकिन साथ ही उन्होंने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर लखीमपुर खीरी कांड में पीड़ितों को न्याय दिलाने की मांग की है। चिट्ठी लिखने वालों में प्रियंका अकेली नहीं है, बल्कि उनके चचेरे भाई वरुण गांधी ने भी पीएम मोदी को इस बाबत चिट्ठी लिखी है।

यह भी पढ़ें: कृषि कानूनों की वापसी के ऐलान पर बॉलीवुड एक्ट्रेस का रिएक्शन

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का स्वागत किया है। साथ ही पीएम मोदी से एमएसपी पर कानून बनाने और अन्य मुद्दों पर भी तत्काल फैसला करने की मांग की है। ताकि किसान अपने आंदोलन समाप्त कर घर लौट सकें। पीएम मोदी को लिखे पत्र में वरुण ने लिखा है कि तीन कृषि कानूनों की वापसी और फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की संवैधानिक गारंटी की मांग को लेकर पिछले एक साल से किसानों का एक विशाल आंदोलन देशभर में चल रहा है। आपने बड़ा दिल दिखाते हुए इन कानूनों को निरस्त करने की जो घोषणा की है, उसके लिए मैं आपके फैसले का स्वागत करता हूं।

यह भी पढ़ें: जानिए कृषि कानूनों की वापसी पर राकेश टिकैत ने क्या कहा, पंजाब में क्या है इसके मायने?

किसान आंदोलन के दौरान 700 से ज्यादा किसानों की मौत का जिक्र करते हुए वरुण ने लिखा कि अगर यह फैसला पहले ले लिया जाता तो इतने बड़े पैमाने पर किसानों की जानें नहीं जाती। वरुण ने इन किसानों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए का मुआवजा देने की मांग भी पीएम मोदी से की। इसके साथ ही वरुण ने आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज हुए मुकदमों को भी खत्म करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: गुरु गोबिंद सिंह गुरुद्वारा ग्रंथी ने किसानों की जीत को बताया सत्य की जीत

वरुण गांधी ने पीएम मोदी से एमएसपी पर कानून बनाने और अन्य मुद्दों पर भी तत्काल फैसला करने की मांग की है ताकि किसानों को आर्थिक सुरक्षा चक्र मिल सके और वो संतुष्ट होकर, आंदोलन समाप्त कर अपने घर लौट सके। लखीमपुर खीरी हिंसा का जिक्र करते हुए वरुण गांधी ने पीएम मोदी से इस मामले की निष्पक्ष जांच करने और केंद्रीय मंत्री पर भी सख्त कार्यवाही करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें:सीएम जयराम ने ऊना को दी करोड़ों की सौगात, कृषि कानून पर एक लाइन में दिया जवाब

दरअसल, पीलीभीत से बीजेपी के लोकसभा सांसद वरुण गांधी हाल के दिनों में किसान आंदोलन, लखीमपुर खीरी हिंसा और किसानों से जुड़े मुद्दों पर लगातार पत्र लिख रहे हैं। वरुण गांधी के इन पत्रों की वजह से पार्टी के लिए लगातार असहज स्थिति भी उत्पन्न हो रही है क्योंकि वरुण गांधी लगातार बीजेपी और सरकार के स्टैंड से बिल्कुल अलग हटकर नया स्टैंड लेते ही नजर आते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है