Covid-19 Update

2,67,577
मामले (हिमाचल)
2, 53, 840
मरीज ठीक हुए
3961*
मौत
40,622,709
मामले (भारत)
366,912,057
मामले (दुनिया)

रिश्वत आरोपी निलंबित एसएचओ से विजिलेंस ने की पांच घंटे पूछताछ, जाने क्या बोले

एसएचओ ने घूस के आरोपों को बताया निराधारए कहा. उनके पास कोई नहीं पैसे

रिश्वत आरोपी निलंबित एसएचओ से विजिलेंस ने की पांच घंटे पूछताछ, जाने क्या बोले

- Advertisement -

हमीरपुर। हिमाचल के हमीरपुर जिला में रिश्वत लेकर भागे निलंबित एसएचओ (Suspended SHO) नीरज राणा को सोमवार को विजिलेंस (Vigilance) थाना हमीरपुर में तलब किया गया। इस दौरान उनसे पूछताछ की गई। आरोपी दोपहर करीब 12 बजे थाना में पहुंचा जहां शाम पांच बजे तक उससे विजिलेंस ने पूछताछ की। बताया जा रहा है कि आरोपी विजिलेंस जांच में सहयोग नहीं कर रहा। विजिलेंस ने इंस्पेक्टर नीरज राणा से घूस के 25 हजार रुपये केस प्रॉपर्टी के रूप में प्रस्तुत करने के लिए कहा, लेकिन एसएचओ ने घूस के आरोपों को निराधार बताया और कहा कि उनके पास कोई पैसे नहीं हैं। बता दें कि शिकायतकर्ता और एसएचओ के बीच रिश्वत के लेनदेने को लेकर फोन पर हुई बातचीत का रिकॉर्ड भी विजिलेंस के पास उपलब्ध है। वहीं शिकायतकर्ता ने एसएचओ को रिश्वत (Bribe) के रूप में 25 हजार रुपये दिए थे, उसमें केमिकल लगा था। हर नोट का सीरियल नंबर रिकॉर्ड के रूप में विजिलेंस के पास मौजूद है। इससे स्पष्ट होता है कि आरोपी विजिलेंस के सामने झूठ बोल रहा है।

यह भी पढ़ें: निलंबित नादौन के एसएचओ नीरज राणा को हिमाचल हाई कोर्ट से मिली अंतरिम अग्रिम जमानत

क्या था मामला

21 दिसंबर को विजिलेंस ने एसएचओ नीरज राणा के खिलाफ रिश्वत के आरोप में मामला दर्ज किया था। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि एसएचओ ने दुधारू पशुओं को मंडी से पठानकोट ले जाने की परमिशन की एवज में 25 हजार रुपये रिश्वत मांगी थी। नादौन के लेबर चौक पर एसएचओ रिश्वत की रकम ले रहा था तो विजिलेंस ने उसे गिरफ्तार (Arrest) करने का प्रयास कियाए लेकिन वह विजिलेंस टीम पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास करते हुए मौके से फरार हो गया। अगले दिन विजिलेंस और फोरेंसिक साइंस विभाग ने जब एसएचओ की गाड़ी की तलाशी ली तो 0.84 ग्राम चिट्टा बरामद हुआ। गाड़ी के स्टीयरिंग और गियर लीवर पर एसएचओ की उंगलियों के निशान का मिलान नोटो पर लगे केमिकल से करने के लिए फोरेंसिक साइंस विभाग ने सैंपल भी एकत्रित किए। नीरज के खिलाफ भ्रष्टाचार उन्मूलन अधिनियम, हत्या के प्रयास और एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज है। इसी बीच, बीते शुक्रवार को हाईकोर्ट ने आरोपी को 31 जनवरी तक अंतरिम अग्रिम जमानत दी। अब विजिलेंस 31 जनवरी को हाईकोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट फाइल करेगी। विजिलेंस आरोपी को रिमांड पर लेने का प्रयास कर रही है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है