Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

भारत में Covid-19 का बुरा दौर गुजर गया; अन्य देशों के मुकाबले हमारा प्रबंधन बेहतर रहा: जावड़ेकर

भारत में Covid-19 का बुरा दौर गुजर गया; अन्य देशों के मुकाबले हमारा प्रबंधन बेहतर रहा: जावड़ेकर

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश को 17 मई तक के लिए लॉकडाउन (Lockdown) पर रखने का फैसला है। देश में जारी कोरोना लॉकडाउन के बावजूद रोजाना ही संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। इस सब के बीच केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शनिवार को एक बड़ा ही चौंकाने वाला बयान दिया है। दरअसल प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि भारत (India) में इस महामारी का बुरा समय गुजर चुका है और भारत ने अन्‍य देशों की तुलना में बेहतर तरीके से काम किया है।

यह भी पढ़ें: UP: साइकिल चलाकर शादी करने बिलासपुर से महोबा पहुंचा शख्स, दुल्हन को साइकिल पर ही लाया घर

उन्होंने कहा, ‘जब तक इस पर पूरी तरह काबू नहीं किया जाता, तब तक हमें सतर्कता बरतनी होगी और दिशानिर्देशों का पालन करना होगा।’ बकौल जावड़ेकर, ‘कोविड-19 को लेकर हमारा प्रबंधन अन्य देशों से बेहतर है।’ जावड़ेकर का कहना है कि कोरोना वायरस (कोविड-19) की वैक्‍सीन आने तक हमें ‘दो गज की दूरी’ के नियम का पालन करना चाहिए। उन्‍होंने कहा, ‘चीन से ये संक्रमण आया, लेकिन अभी इसका कोई वैक्सीन नहीं मिला। जब तक वैक्सीन नहीं मिलता, तब तक हमें एक तरह से कोविड-19 के साथ ही जीना होगा। मास्क लगाना, बार-बार हाथ धोना, 2गज की दूरी रखना, ये ‘न्यू नॉर्मल’ है। समाज ने 40 दिन में ये बहुत अच्छे से सीख लिया है। मंत्री का कहना है कि चार मई से आधे देश में गतिविधियां शुरू हो जाएंगी।


उन्होंने कहा, ‘लॉकडाउन ने हमें कोविड-19 महामारी से निपटने में सफलता दिलाई है। चार मई से आधे देश में गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। जैसे ही लॉकडाउन समाप्त होगा सारे उद्योग शुरू होंगे। भारत की अर्थव्यवस्था मजबूत है, भारत में आतंरिक मांग बहुत है। 130 करोड़ जनता ही बाजार है। निर्यात में हमारा हिस्सा एक प्रतिशत ही था, वो सारा खत्म नहीं होगा। वो (निर्यात) ऐसा है जहां मांगों में कटौती नहीं होने वाली है।’

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है