Covid-19 Update

1,98,901
मामले (हिमाचल)
1,91,709
मरीज ठीक हुए
3,391
मौत
29,570,881
मामले (भारत)
177,058,825
मामले (दुनिया)
×

पेड़ से गिरने लगे 500 के नोट और नीचे उमड़ी भीड़, आखिर क्या था पूरा माजरा

बुजुर्ग के साथ से नोटों की गड्डी छीन पर पेड़ पर चढ़ गया बंदर

पेड़ से गिरने लगे 500 के नोट और नीचे उमड़ी भीड़, आखिर क्या था पूरा माजरा

- Advertisement -

पेड़ से फल गिरते हुए तो सुने थे पर क्या आप ने कभी पेड़ से नोट गिरते हुए देखे या सुने हैं। जिसने भी इस नजार को देखा वह देखता ही रह गया। मामला उत्तर प्रदेश के सीतापुर ( Sitapur in Uttar Pradesh) का है। यहां पर अचानक पेड़ से नोट गिरने लगे। आने-जाने वाले परेशान थे कि क्या हुआ। देखते ही देखते लोगों का हुजूम पेड़ के नीचे लग गया। बाद में पता चला कि एक बुजुर्ग के हाथ से एक बंदर नोटों की गड्डी छीन कर भाग गया और सीधे पेड़ पर चढ़ गया। पेड़ पर चढ़ कर वह नोट नीचे गिराने लगा।

यह भी पढ़ें:- महिला ने कराया 11 दिन का अनुष्ठान: 40 पुरोहितों को दक्षिणा में थमा दिए 5.5 लाख के ‘चूरन’ वाले नोट

जाहिर है सीतापुर शहर के कोतवाली क्षेत्र के विकास भवन परिसर स्थित रजिस्ट्री कार्यालय ( Registry office) में खैराबाद कस्बे के ग्राम कासिमपुर निवासी भगवानदीन ने अपने बेटे के इलाज के लिए गांव के ही एक व्यक्ति को जमीन बेची थी। जब रजिस्ट्री कार्यालय आकर उन्होंने जमीन की रजिस्ट्री कराई तो उन्हें जमीन के बदले 1 लाख रुपये मिले। बुजुर्ग जब तक पैसे समेटकर बैग में रख पाते, तब तक वहां बैठे बंदर ने उसे खाने की चीज समझकर 500 के नोटों की एक गड्डी उठा ली और पेड़ पर चढ़ गया। पेड़ चढ़ कर उसने नोटों की गड्डी खोली और एक एक करके नोट नीचे गिराने लगा। नोट गिरता देख लोग उसे उठाने के लिए दौड़ पड़े। इस दौरान काफी लोगों की भीड़ भी इकट्ठा हो गई। पेड़ से अचानक नोटों की बारिश होते देखकर लोगों से बुजुर्ग ने मदद की गुहार की। लोगों ने भी उनकी मदद की और जमीन पर बिखरे नोटों को समेटकर बुजुर्ग को सौंपा। लोगों ने लाठी-डंडों के सहारे बंदर खदेड़ा। बुजुर्ग के मुताबिक तकरीबन 7 हजार के नोट खराब हुए हैं या फट गए हैं।उसने यह जमीन अपने बेटे के इलाज के लिए बेची थी, क्योंकि वह गंभीर बीमारी से पीड़ित है।इससे पहले आगरा में भी इसी तरह की एक घटना हुई थी।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है