Covid-19 Update

2,27,483
मामले (हिमाचल)
2,22,831
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,624,360
मामले (भारत)
265,482,381
मामले (दुनिया)

नई दिल्ली में हुई BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पीएम हुए भावुक, हिमाचल के लिए क्या रहा खास

बीजेपी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा ने की अध्यक्षता

नई दिल्ली में हुई BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पीएम हुए भावुक, हिमाचल के लिए क्या रहा खास

- Advertisement -

नई दिल्ली/शिमला। देश की राजधानी नई दिल्ली (New Delhi) में उपचुनाव के नतीजों के बाद बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी (national executive) की बैठक हुई। बैठक का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किया। बैठक में लगभग 342 नेताओं ने भाग लिया।

खुद बीजेपी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा (JP Nadda) के कार्यकाल की यह पहली बैठक है। गृह राज्य में चारों खाने चित होने के बाद सब इस बैठक को विपक्षी दलों से लकेर राजनीतिक विश्लेषक टकटकी लगाए देख रहे हैं। बीजेपी (BJP) ने भी उपचुनाव के नतीजों को भांपते हुए कई संकल्प लिए। पार्टी ने अगले साल होने वाले पांच विधानसभा चुनाव में चुनाव कमजोर संगठनात्मक ढांचे को दुरुस्त करने, भितरघात की आंच को ठंडा करने और हिमाचल व यूपी जैसे किलों को बचाने के लिए लक्ष्य बना लिए हैं।

पीएम मोदी हुए भावुक

पीएम मोदी ने बहुत संक्षिप्त और भवनात्मक भाषण दिया, जिसमें उन्होंने संगठन में सेवा भावना से काम करने का संदेश दिया। पीएम नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सहजता ही जीवन है, सभी नेता सहज रहे। साथ ही कहा कि सेवा ही सबसे बड़ी पूजा है और इस कोरोना काल में कार्यकर्ताओं ने सेवा की नई संस्कृति की शुरुआत की है।

पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि सामान्य आदमी के मन के विश्वास का सेतु बनना होगा। साथ ही उन्होंने सेवा और संकल्प के आधार पर पार्टी की परंपरा के आधार पर आगे बढ़ना को कहा। उन्होंने कहा कि पिछले 19 महीने के कार्यकाल में केवल राजनीति नहीं, बल्कि सेवा को जिस तरह आधार बनाया गया, उससे देश की राजनीति में जोड़कर आगे बढ़ाया जा सकता है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कमल पुष्प कार्यक्रम को लॉन्च किया, जो नमो एप पर चलेगा।

कांग्रेस अब तक अध्यक्ष चुनने में रही नाकाम

बता दें कि बीजेपी 25 दिसंबर तक देशभर के सभी 104,000 पोलिंग स्टेशन पर बूथ कमिटी का गठन करने का लक्ष्य बना चुकी है। 6 अप्रैल 2022 तक सभी राज्यों में पन्ना प्रमुख नियुक्त कर दिए जाएंगे और मई 2022 तक देश के सभी पोलिंग बूथों पर पीएम मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के प्रसारण सुनिश्चित किया जाएगा।

गौरतलब है कि एक तरफ जहां बीजेपी पन्ना प्रमुख का चुनाव करने जा रही है तो वहीं, दूसरी तरफ बीते ढाई बरस से कांग्रेस अपना स्थायी अध्यक्ष चुनने में नाकाम रही है। कांग्रेस ने संगठनात्मक चुनाव को अगले साल के लिए टाल दिया है। इससे पहले कि कांग्रेस पार्टी अपने अध्यक्ष का चुनाव करेगी, बीजेपी लाखों पन्ना प्रमुखों की नियुक्ति से 2024 लोकसभा चुनाव के लिए अहम पड़ाव हासिल कर चुकी होगी।

यह भी पढ़ें: कॉप-26 में विकसित देशों पर गरजने वाले PM मोदी, ग्लासको घोषणा पत्र से आखिर क्यों हटे पीछे, जानें वजह

गुजरात फॉर्मूला पर चलेगी बीजेपी

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को लेकर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Cabinet Minister Dharmendra Pradhan) ने कहा कि आज राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई। बैठक में कई लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने गुजरात मॉडल का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ”गुजरात (Gujarat) में पार्टी ने एक प्रयोग किया, जहां बूथ कमिटी के अलावा पेज कमेटी का भी गठन किया गया है। 25 दिसंबर तक सभी बूथ कमिटी तैयार हो जाएगी, अब तक 85 फीसदी का गठन हो चुका है। अब हमारा लक्ष्य सभी पोलिंग स्टेशन पर पन्ना प्रमुख नियुक्त करने का है।”

वहीं, बैठक में जेपी नड्डा ने पूर्व अध्यक्ष अमित शाह की उस बात को दोहराया कि बीजेपी का सर्वश्रेष्ठ आना अभी बाकी है। इधर, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद प्रधान ने कहा, ”2014 में शाह ने नए लक्ष्य तय किए थे। जिनमें से कई हासिल हो चुके हैं, जैसे असम, त्रिपुरा और पूर्वोत्तर में कई राज्यों में जीत। नड्डा ने कहा कि अभी उत्कर्ष आना बाकी है।” गौरतलब है कि अमित शाह ने भी पश्चिम बंगाल और केरल जैसे राज्यों में सरकार बनाने का लक्ष्य रखते हुए कहा था कि बीजेपी का विस्तार अभी बाकी है।

हिमाचल के लिए क्यों खास है यह बैठक

हिमाचल में हुए उपचुनाव में चारों खाने चित होने के बाद आज होने वाली राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को लेकर बीते शनिवार से ही हल्ला जारी था। शिमला की ठंडी सियासी गलियारों में बीजेपी के बड़े नेता कल से ही पहुंचने शुरू हो गए थे। बड़ा हल्ला मचा हुआ था। नेतृत्व परिवर्तन को लेकर भी खुसुर-फुसुर चल रही थी। चेहरे बदलने पर ताजपोशी किसकी होगी यह बात सियासी गली में गर्मी पैदा कर रही थी। नाम और चेहरे बदले पर जानकार कहते हैं कि बीजेपी में जोश आ जाएगा। संगठन में व्यक्ति विशेष की थानेदारी खत्म हो जाएगी। कार्डर का बिखराव रूक जाएगा। चेहरा बदलने से हिमाचल की पथरीली रास्तों में दिशा दिखाने वाला ध्रुव तारा मिल जाएगा। फिलहाल, तो पर्दे के सामने ऐसा कुछ होता अब तक दिखाई नहीं दिया है।

आज सुबह जब राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू हुई तो सीएम जयराम ठाकुर, पूर्व सीएम प्रोफेसर प्रेम कुमार धूमल, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप और संगठन महामंत्री पवन राणा बैठक में वर्चुअली शामिल हुए। इनके साथ बीजेपी प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना व सह प्रभारी संजय टंडन चंडीगढ़ और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर दिल्ली से बैठक में जुड़े। इधर, बैठक खत्म होने के बाद बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष व सांसद सुरेश कश्यप मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा कि इन उपचुनावों में सभी कमियों को पूरी करते हुए 2022 के चुनावों के लिए बीजेपी तैयार है और हम आने लक्ष्य पर अटल है।

22 नवंबर से पहले बीजेपी करेगी मंथन

आज सुबह जब राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू हुई तो सीएम जयराम ठाकुर, पूर्व सीएम प्रोफेसर प्रेम कुमार धूमल, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप और संगठन महामंत्री पवन राणा बैठक में वर्चुअली शामिल हुए। मीडिया से मुखातिब होते हुए पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने इसे लेकर बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव में मिली हार पर आगामी 22 नवंबर से पहले मंथन होगा। वहीं, इस दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने मंत्रिमंडल में फेरबदल की संभावनाओं की बात पर टालमटोल कर गए। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हार के कारणों पर विचार किया जाएगा। उधर, उपचुनाव के नतीजों के बाद भी कहा कि 2022 में बीजेपी ही प्रदेश में सरकार बनाएगी। जहां चूक हुई है उसे दुरुस्त किया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है