Covid-19 Update

2,67,577
मामले (हिमाचल)
2, 53, 840
मरीज ठीक हुए
3961*
मौत
40,858,241
मामले (भारत)
370,456,718
मामले (दुनिया)

दिल्ली में नहीं अब जयपुर में होगी कांग्रेस की महारैली, आज शिमला में धरना प्रदर्शन

कुलदीप राठौर ने कहा केंद्री सरकार लोकतंत्र का घोंट रही गला

दिल्ली में नहीं अब जयपुर में होगी कांग्रेस की महारैली, आज शिमला में धरना प्रदर्शन

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल कांग्रेस (Himachal Congress) की बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी के खिलाफ दिल्ली में होने वाली महारैली अब जयपुर (Jaipur) में होगी। दिल्ली के उप राज्यपाल द्वारा कांग्रेस की 12 दिसंबर की प्रस्तावित महा रैली की अनुमति ना देने के चलते यह फैसला लिया गया है। कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (Kuldeep Singh Rathore) ने कहा कि इसके लिए बीजेपी की केंद्र सरकार पर लोकतंत्र का गला घोंटने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इसके खिलाफ शिमला (Shimla) में कल यानी शुक्रवार को धरना प्रदर्शन करेगी। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने कहा कि 12 दिसंबर को कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी व डूबती अर्थव्यवस्था के खिलाफ दिल्ली में महंगाई हटाओ रैली करने जा रही थी। दिल्ली में लेफ्टिनेंट गवर्नर ने गृह मंत्री के इशारे पर इसकी इजाजत नहीं दी है। मोदी सरकार सीबीआइ, आइडी का दुरुपयोग अपने विरोधियों को दबाने के लिए कर रही है। अब यह रैली जयपुर में होगी।

यह भी पढ़ें: नई शिक्षा नीति पर नाहन में होगा राष्ट्रीय सम्मेलन, पदमश्री आरसी सोबती करेंगे शुभारंभ

उन्होंने कहा कि देश के संविधान ने अपने नागरिकों को यह अधिकार दे रखा है कि वह सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से कोई भी प्रदर्शन करते हुए अपनी बात कह सकता है। आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में संबोधित करते हुए कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार एक तानाशाह के तौर पर काम कर रही है जहां किसी को भी ना तो बोलने की आजादी है और ना ही कोई रोष प्रकट कर सकता है। उन्होंने कहा कि संसद की मर्यादाओं का हनन हो रहा है। विपक्ष को बोलने नही दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि तीन नए कृषि कानून (agricultural law) बनाते समय भी सदन में कोई चर्चा नही की गई और जब किसानों के भारी दबाव के कारण इसे वापिस लिया गया तब भी सदन के अंदर सरकार ने कोई चर्चा नही की। उन्होंने कहा कि यह देश के सर्वोच्च सदन का घोर अपमान है। उन्होंने कहा कि कृषि मंत्री का यह बयान की आंदोलनरत किसी भी किसान की कोई मौत नही हुई पूरी तरह देश को गुमराह करने वाला है। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस आंदोलन को असफल करने के लिये अनेक षडयंत्र रचे पर वह इसमें सफल नही हुए। अब इस आंदोलन में मारे गए किसानों को किसी भी मुआवजे से सरकार भागने का प्रयास कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है