Covid-19 Update

2, 85, 044
मामले (हिमाचल)
2, 80, 865
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,148,500
मामले (भारत)
531,112,840
मामले (दुनिया)

बर्फ देखने के लिए शिमला में टूट पड़ी भीड़, छुक-छुक बनी हमसफर

सड़कें जाम होने पर सैलानियों ने किया रेल में सफर, 80 फीसदी एडवांस बुकिंग

बर्फ देखने के लिए शिमला में टूट पड़ी भीड़, छुक-छुक बनी हमसफर

- Advertisement -

शिमला। बर्फबारी के बाद भी राजधानी के हालात सुधरने के नाम नहीं ले रहे हैं। सफेद चादर से ढकी पहाड़ों की रानी को देखने के लिए पर्यटकों (Tourists) की भीड़ इतनी उमड़ आई कि सड़कें ही जाम हो गईं। वीकेंड होने के चलते शिमला (Shimla) शहर में सैलानियों की संख्या पूरे सीजन के मुकाबले बहुत ज्यादा रही। आपको बताते चलें कि प्रशासन और विभाग ने बर्फबारी के बाद शहर की सड़कें (Roads) खोल दी थी। आज सुबह मौसम साफ होने के चलते सैलानियों की गाड़ियों की कतारें दोनों तरफ लग गईं। ऐसी ही स्थिति राजधानी के अन्य उपनगरों की रही। इसी बीच रेलवे (Railway) ने सैलानियों को सबसे बड़ी राहत दी, क्योंकि सड़कें पूरी तरह से बंद थी और सैलानियों को आने-जाने के लिए रेल ही एक मात्र सहारा बनी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में खिली धूप पर लोगों को राहत नहीं, 754 सड़कें बंद, 2442 बिजली ट्रांसफार्मर ठप

 

शिमला-कालका रेल ट्रक पर रेलगाड़ियों की आवाजाही सुचारू रूप से जारी रही। सैलानियों ने भी इसका खूब लुत्फ उठाया। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि कुछ दिन के लिए 80 फीसद बुकिंग हो चुकी है। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में यह बुकिंग और ज्यादा होगी। यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर रेलवे ने रेलगाडिय़ों की स्पीड 20 किलोमीटर प्रतिघंटा निर्धारित की है। विस्टाडोम स्पेशल ट्रेन के अलावा कालका.शिमला मेल डाउन, डाउन मिक्स, हिमालयन क्वीन सहित अन्य गाडिय़ां नियमित समय पर चलीं। रेलवे स्टेशन शिमला के अधिकारी जोगेंद्र सिंह ने बताया कि दो दिन शिमला में भारी हिमपात (Snowfall) हुआ है। फिर भी रेलवे सेवा जारी है। कालका जाने वाली गाडिय़ों में भारी भीड़ रही। हिमपात के बावजूद सभी गाडिय़ां निर्धारित समय पर रवाना की गईं।

 

बर्फ देखने के लिए सैलानियों में चढ़ी दिवानगी

सैलानी बर्फ देखने के लिए भारी संख्या में शिमला पहुंच रहे हैं। शनिवार को कंडाघाट व वाकनाघाट में पहुंचे सैलानियों को शिमला आने का मौका मिला। वे एक दिन तो सोलन (Solan) जिला की सीमा में रहते हुए शिमला की बर्फबारी को निहारते रहे। शनिवार को सुबह से ही मैदानी इलाकों से शिमला के लिए वाहनों की आवाजाही बढ़ गई। उस समय तक शहर की सड़कें पूरी तरह से साफ नहीं हुई थी। इस कारण सैलानी अपने वाहन शहर से दूर खड़ा कर वहीं पर होटल (Hotel) ले रहे थे। कंडाघाट से लेकर वाकनाघाट तक के सभी होटल पूरी तरह से पैक हो गए थे। इस बार कुफरी नालदहरा मशोबरा की बजाय निचले क्षेत्रों से आने वाले रास्ते के होटलों में सैलानियों की ज्यादा भीड़ थी। सैलानी रविवार को शहर की सड़कें पूरी तरह से साफ होने के बाद यहां पहुंचे। सैलानी पूरी तरह से सुरक्षित तरीके से बर्फ का लुत्फ उठा कर वापस होटल में पहुंचेए इसके लिए शिमला पुलिस के जवान व अधिकारी सड़कों पर तैनात रहे।

राजधानी में पहुंची करीब चार हजार गाड़ियां

शहर के पूरी सड़कों पर यातायात पूरी तरह से बहाल कर दिया है। लक्कड़ बाजार को छोड़ दें तो बाकी सभी सड़कों पर ट्रैफिक (Traffic) चल रहा है, लेकिन सड़क पर बर्फ में गाड़ी चलाना सैलानियों के लिए अभी तक चुनौतीपूर्ण है, इसलिए शिमला पुलिस के जवान उनके गाइड की तरह काम करते हुए उन्हें इसके बारे में बता रहे हैं। सैलानियों को वाहनों को आराम से और सुरक्षित निकालने के लिए पुलिस ने संवेदनशील स्थानों पर जवानों की तैनाती कर रखी है। डीएसपी (DSP) ट्रैफिक अजय भारद्वाज ने कहा सुबह से ही तीन से चार हजार वाहन शिमला पहुंच रहे हैं। इनकी संख्या में रात तक बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। शिमला आए पर्यटक प्रांजल दुबे ने कहा कि हिमपात में घूमने का आनंद तो आया लेकिन रोड ब्लाक होने से दिक्कतें आईं। बस से आए थे अब वापस ट्रेन से जा रहे हैं। ट्रेन में बुकिंग के लिए आए हैंए लेकिन यहां पर काफी ज्यादा भीड़ है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है